रविवार, 14 अगस्त 2022

10 रन बनाने में संघर्ष कर रहे हैं मॉर्गन, क्या करेंगे टी-20 विश्वकप में? ट्विटर पर उठे सवाल

Last Updated: गुरुवार, 7 अक्टूबर 2021 (21:52 IST)
हमें फॉलो करें
आईपीएल का पहला भाग हो या दूसरा कुछ नहीं बदला है तो और के कप्तान का फॉर्म। मॉर्गन का फॉर्म भारत के खिलाफ सीरीज के बाद आईपीएल के पहले भाग में और फिर अब दूसरे भाग में भी खराब ही है। दूसरे भाग में तो वह दोहरे आंकड़े तक नहीं पहुंच पाए हैं।

इस सीजन की पिछली 11 पारियों में वह सिर्फ 10 की औसत से रन बना चुके हैं। सिर्फ 109 रन कोलकाता के कप्तान ने बनाए हैं। इसमें से लगभग आधे रन (47) पंजाब के खिलाफ खेले गए मैच में उन्होंने बनाए थे।इसके सहित सिर्फ 2 बार ही वह दोहरे आंकड़े तक पहुंच पाए हैं।

इयॉन मॉर्गन के इस खराब फॉर्म पर ट्विटर के यूजर्स के काफी ट्वीट्स आए। ज्यादातर ट्विटर यूजर्स का मानना था कि ऐसे फॉर्म में वह एक खिलाड़ी के तौर पर भी उनकी जगह इंग्लैंड टीम में नहीं बनती तो फिर वह टीम की अगुवाई क्या करेंगे।

सबसे खराब औसत

आईपीएल के किसी भी सत्र में उन्होंने किसी भी कप्तान के सबसे खराब औसत का अनचाहा रिकॉर्ड बना लिया है। उनसे ऊपर हरभजन सिंह हैं जिन्होंने 2012 में 12 के औसत से रन बनाए थे। शेन वॉर्न ने साल 2009 में 13 के औसत से रन बनाए थे।लेकिन यह दोनों गेंदबाज थे तो इनका बल्ले से खराब औसत समझ में आता है मॉर्गन का नहीं।

इसके अलावा वह एक सीजन में सर्वाधिक 9 बार 10 रनों से कम पर आउट होने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। उनके साथ दिनेश कार्तिक (2020) और दीपक हुड्डाभी (2016) 9 बार 10 रनों से कम पर आउट हुए थे।

इसके अलावा खबर लिखे जाने तक वह मयंक अग्रवाल का 0 के स्कोर पर टिम साउदी की गेंद पर कैच भी टपका चुके थे। अग्रवाल ने इसके बाद आक्रमक रुख अख्तियार कर लिया था।(वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :