मॉर्गन ने की थी अश्विन से स्लेजिंग, कोलकाता के कप्तान को 0 पर आउट कर ऐसे उछले दिल्ली के स्पिनर (वीडियो)

Ravichandran Ashwin
Last Updated: मंगलवार, 28 सितम्बर 2021 (23:04 IST)
से के कप्तान की दिल्ली की पारी के आखिरी ओवर में बहस हुई। जब कोलकाता के लिए डेब्यू करने वाले टिम साउदी ने अंतिम ओवर की पहली गेंद पर रविचंद्रन अश्विन का विकेट ले लिया था।

रविचंद्रन अश्विन 8 गेंद में 1 चौके की मदद से 9 रन बनाकर पवैलियन जा ही रहे थे कि कोलकाता के कप्तान इयॉन मॉर्गन और कोलकाता के कुछ खिलाड़ियों से उनकी बहस हो गई थी। अश्विन आगे बढ़े लेकिन दिनेश कार्तिक ने उनको बीच में ही रोक दिया।
मैदान पर उलझने के बाद रविचंद्रन अश्विन अपमान का घूंट पीकर पवैलियन लौट गए। लेकिन ठान लिया कि इस बात को इस ही मैच में खत्म करके रहेंगे।

रविचंद्रन अश्विन ने कमाल तब दिखाया जब इयॉन मॉर्गन बल्लेबाजी करने के लिए आए। अश्विन ने कोलकाता के कप्तान को 0 के स्कोर पर स्लिप्स में तैनात ललित यादव के हाथो कैच आउट करवा दिया।
इस विकेट का जश्न अश्विन ने खासे उत्साह के साथ मनाया। आमतौर पर अश्विन काफी ठंडे दिमाग के क्रिकेटर माने जाते हैं लेकिन इस मौके पर वह अपने जोश को काबू में नहीं रख सके।

अश्विन और मोर्गन की मैदान पर तकरार ने फिर खेल भावना को लेकर बहस शुरू की

कोलकाता नाइट राइडर्स के सीनियर खिलाड़ी दिनेश कार्तिक को खुशी है कि उन्होंने मंगलवार को यहां के खिलाफ आईपीएल मुकाबले के दौरान नाराज रविचंद्रन अश्विन और खिन्न इयोग मोर्गन के बीच मैदान पर तीखी तकरार के बाद मामले को शांत करने में भूमिका निभाई।

नाइट राइडर्स ने दिल्ली को कम स्कोर वाले मैच में तीन विकेट से हराया लेकिन समस्या उस समय शुरू हुई जब कोलकाता के क्षेत्ररक्षक राहुल त्रिपाठी ने थ्रो फेंकी और गेंद दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत से टकराकर दूर चली गई। अश्विन ने इसके बाद अतिरिक्त रन चुराने का प्रयास किया।

कार्तिक ने खुलासा किया कि उनके कप्तान मोर्गन को लगा कि यह ‘खेल भावना’ के अंतर्गत नहीं था और टिम साउथी की गेंद पर जब अश्विन आउट हुए तो उन्होंने उसे यह बात कही।

मैदान से बाहर जा रहे नाराज अश्विन इसके बाद रुक गए और उन्हें नाइट राइडर्स के कप्तान ओर आते देखा गया। कार्तिक इसके बाद दोनों के बीच में आ गए और उन्होंने तमिलनाडु टीम के अपने साथी से आग्रह किया कि वह मैदान से चले जाएं।

कार्तिक ने दिल्ली के खिलाफ तीन विकेट की जीत के बाद कहा, ‘‘मुझे पता है कि जब राहुल त्रिपाठी ने थ्रो किया और गेंद ऋषभ पंत के शरीर से लगकर दूर चली गई तो अश्विन ने रन की मांग की और उन्होंने रन लेना शुरू कर दिया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि मोर्गन को यह पसंद आया। मुझे लगता है कि वह उम्मीद करता है कि अगर गेंद बल्लेबाज या बल्ले से लगती है तो वह खेल भावना में रन नहीं लेगा। यह काफी रोचक विषय है, इस पर मेरा अपना नजरिया है। ’’

कार्तिक ने कहा, ‘‘लेकिन फिलहाल मैं सिर्फ इतना कहूंगा कि मुझे खुशी है कि मैंने मामला शांत करने में भूमिका निभाई और अब चीजें ठीक हो गई हैं।’’दिल्ली के कप्तान पंत ने इस मामले को अधिक तवज्जो नहीं देते हुए कहा कि यह खेल का हिस्सा है।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह खेल का हिस्सा है क्योंकि दोनों टीमें मैच जीतने का प्रयास कर रही थीं इसलिए कुछ होना था। जो भी खेल के लिए अच्छा है वह मुझे लगता है कि खेल भावना के तहत है।’’पंत ने साथ ही कहा कि किसी को भी इस तरह की बहस को अधिक तवज्जो नहीं देनी चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘आखिर में ऐश और मोर्गन दोनों अपनी टीमों के लिए मैच जीतने की कोशिश कर रहे थे और उनके बीच कुछ संवादहीनता थी।’’पंत ने कहा कि पृथ्वी साव लगभग 80 प्रतिशत फिट हैं और संभवत: अगले मुकाबले में खेलेंगे।



और भी पढ़ें :