52 गेंदो में शतक लगाने वाले RCB के देवदत्त ने यह कहा मैच के बाद (वीडियो)

Last Updated: शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021 (13:03 IST)
मुंबई: (आरसीबी) के सलामी बल्लेबाज देवदत्त पड्डीकल ने कहा कि कप्तान विराट कोहली के साथ साझेदारी के कारण उन्हें के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में बीच के ओवरों में गेंद को सीमा रेखा तक पहुंचाने में मदद मिली।
बीस वर्षीय पड्डीकल ने गुरुवार को आईपीएल में अपना पहला शतक जमाया। उन्होंने 52 गेंदों पर 101 रन बनाये जिसमें 11 चौके और 6 छक्के शामिल थे और कोहली के साथ 181 रन की अटूट साझेदारी करके रॉयल्स पर 10 विकेट से जीत दिलायी।

पड्डीकल ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह मैच की स्थिति से जुड़ा था। मुझे हमेशा विशेष तरह की भूमिका निभानी होती है और मैं जितना संभव हो इसे निभाने की कोशिश करता हूं।’’उन्होंने कहा, ‘‘कई बार बीच के ओवरों में स्थिति चुनौतीपूर्ण बन सकती है और तब गेंद को सीमा रेखा तक पहुंचाना आसान नहीं होता है। विकेट अच्छा था और हम साझेदारी आगे बढ़ा रहे थे और एक दूसरे का अच्छा साथ दे रहे थे। ऐसी स्थिति में बाउंड्री लगाना आसान हो जाता है क्योंकि हम स्ट्राइक रोटेट कर रहे थे।’’
पड्डीकल से पूछा गया कि शतक के करीब पहुंचने पर उनके दिमाग में क्या चल रहा था, उन्होंने कहा कि वह अपने शतक के बारे में नहीं सोच रहे थे क्योंकि जीत महत्वपूर्ण थी।उन्होंने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मैं मैच का अंत करने पर ध्यान दे रहा था जो कि अधिक मायने रखता है। हम जल्द से जल्द जीत दर्ज करना चाहते थे। जब मैं क्रीज पर था तो अपने शतक के बारे में नहीं सोच रहा था। मेरे लिये मैच में जीत दर्ज करना महत्वपूर्ण था। ’’

मैन आफ द मैच रहे पडीक्कल ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं, यह विशेष रहा। मैं सिर्फ गेंद का सामना करने के लिये अपनी टर्न का इंतजार कर रहा था। जब मैं कोविड-19 पॉजिटिव हुआ था तो मैं बस यहां आकर खेलना चाहता था। मैं पहले मैच में नहीं खेल पाया था, मुझे वो अखरता है। ’’

बीस साल के पडिक्कल पिछले सत्र में आरसीबी के शीर्ष स्कोरर थे। उन्होंने 15 मैचों में 473 रन बनाये थे। वह आईपीएल के अपने पहले सत्र में 400 से अधिक रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी बने थे। लेकिन वह पिछले सीजन में शतक नहीं बना पाए थे जिसकी कमी उन्होंने गुरुवार को पूरी कर ली।आईपीएल में शतक जड़ने वाले वह तीसरे भारतीय युवा बल्लेबाज बने। यही नहीं आईपीएल के अनकैप्ड बल्लेबाजों में उनका यह शतक सबसे तेज शतक है।
देवदत्त पड्डीकल को इस टूर्नामेंट के शुरुआत में ही कोरोना वायरस हो गया था। जिसके कारण वह आईपीएल 2021 का पहला मैच नहीं खेल पाए थे। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज देवदत्त पड्डीकल को 22 मार्च 2021 को कोविड-19 के जांच में पॉजीटिव मिले थे।

उसके बाद से वह बेंगलुरु स्थित अपने घर में पृथकवास पर थे। आईपीएल प्रोटोकॉल के अनुसार आरटी-पीसीआर परीक्षण में नेगेटिव होने पर वह आरसीबी के बायो-बबल में शामिल हुए थे।आरसीबी का अगला मुकाबला रविवार को पूर्व चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स से होगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :