कोरोना को हराने के बाद देवदत्त ने जड़ा अपना पहला IPL शतक, यह खिलाड़ी रहे जीत के स्टार्स

Last Updated: शुक्रवार, 23 अप्रैल 2021 (00:24 IST)
को इस टूर्नामेंट के शुरुआत में ही कोरोना वायरस हो गया था। जिसके कारण वह आईपीएल 2021 का पहला मैच नहीं खेल पाए थे। के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज देवदत्त पड्डीकल को 22 मार्च 2021 को कोविड-19 के जांच में पॉजीटिव मिले थे। उसके बाद से वह बेंगलुरु स्थित अपने घर में पृथकवास पर थे। आईपीएल प्रोटोकॉल के अनुसार आरटी-पीसीआर परीक्षण में नेगेटिव होने पर वह आरसीबी के बायो-बबल में शामिल हुए थे।

बीस साल के पडिक्कल पिछले सत्र में आरसीबी
के शीर्ष स्कोरर थे। उन्होंने 15 मैचों में 473 रन बनाये थे। वह आईपीएल के अपने पहले सत्र में 400 से अधिक रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी बने थे। लेकिन वह पिछले सीजन में शतक नहीं बना पाए थे जिसकी कमी उन्होंने आज पूरी कर ली। देवदत्त पड्डीकल को मिलाकर बैंगलोर के यह 3 खिलाड़ी रहे जीत के स्टार्स
देवदत्त पड्डीकल- देवदत्त पड्डीकल ने ना सिर्फ शतक जड़ा बल्कि जिस तेजी से उन्होंने यह शतक बनाया है वह काबिले तारीफ है। विराट कोहली के साथ बल्लेबाजी करने उतरे पड्डीकल पहले से ही आक्रमक मूड में थे। कोहली उनको स्ट्राइक दिए जा रहे थे और वह अपने शॉट्स खेले जा रहे थे। यही कारण है कि विराट से काफी पहले उन्होंने अर्धशतक पूरा किया और मैच के अंत में चौका लगाकर आईपीएल में अपना पहला शतक पूरा किया। देवदत्त पड्डीकल आईपीएल में शतक लगाने वाले तीसरे सबसे युवा भारतीय बने। पड्डीकल ने 52 गेंदों पर नाबाद 101 रन में 11 चौके और 6 छक्के मारे जिसके लिए पडिकल को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।
विराट कोहली- कई क्रिकेट फैंस रन मशीन विराट कोहली से बड़ी पारी की उम्मीद लगाए बैठे थे। आज तो उन्होंने टॉस जीता उसके बाद रिव्यू भी सही लिया तो आज उनका दिन बल्लेबाजी में भी होना ही था। श्रेयस गोपाल के पहले ओवर में ही छक्का लगाना वाले विराट कोहली ने धीमी शुरुआत की लेकिन उसके बाद उनकी पारी ने रफ्तार पकड़ी।

पहले 25 गेंदो में उनका स्ट्राइक रेट सिर्फ 104 का था लेकिन अगली 22 गेंदो में उनका स्ट्राइक रेट 244 का हो गया। कप्तान विराट ने 47 गेंदों पर नाबाद 72 रन में 6 चौके और 3 छक्के लगाए।
मोहम्मद सिराज- राजस्थान से मिली जीत का श्रेय भले ही बल्लेबाज बटोर रहे हों लेकिन राजस्थान को शुरुआती झटके देने का काम ने किया । सिराज ने अपने 4 ओवर के स्पैल में 27 रन देकर 3 महत्वपूर्ण विकेट चटकाए।

सबसे पहले मोहम्मद सिराज ने अंदर आती हुई गेंद पर जोस बटलर को सिर्फ 8 रनों पर बोल़्ड कर दिया। इसके बाद डेविड मिलर को उन्होंने खाता भी नहीं खोलने दिया और 0 पर ही पगबाधा आउट कर दिया। यह निर्णय आरसीबी के पक्ष में रिव्यू लेने के बाद गया। अंतिम ओवर से ठीक पहले उन्होंने 40 रन बना चुके राहुल तेवतिया को शाहबाज अहमद के हाथों कैच आउट करवा दिया।

वैसे तो 3 विकेट हर्षल पटेल ने भी लिए लेकिन हर्षल के ज्यादातर विकेट निचले क्रम के बल्लेबाज थे। सिराज ने राजस्थान के तीनों खतरनाक बल्लेबाजों को पवैलियन की राह दिखाई। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :