1. खेल-संसार
  2. आईपीएल 2020
  3. आईपीएल न्यूज़
  4. Ravindra Jadeja becomes the 10th batsman to win by sixes in IPL history

KKR vs CSK : IPL के इतिहास में छक्के से जीत दिलाने वाले रवींद्र जडेजा 10वें बल्लेबाज बने

दुबई में गुरुवार की रात महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) जब 1 रन के स्कोर पर कोलकाता के वरुण चक्रवर्ती की स्पिन के जाल में उलझकर बोल्ड हो गए, तब किसी ने सपने में भी नहीं सोचा था कि रवींद्र जड़ेजा (Ravindra Jadeja) 'वन मैन आर्मी' बनकर मैच को जिता लें जाएंगे। चेन्नई को जब 1 गेंद पर जीत के लिए 1 रन की जरूरत थी, तब जडेजा ने विजयी छक्का उड़ा डाला। जडेजा आईपीएल (IPL) इतिहास में छक्के से टीम को जीत दिलाने वाले 10वें बल्लेबाज बन गए हैं।
 
ऑलराउंडर जड़ेजा ने 11 गेंदों में 31 रनों की नाबाद पारी खेली, जिसमें 2 चौके और 3 छक्के शामिल थे। उनका तीसरा छक्का कोलकाता नाइट राइडर्स के गेंदबाज कमलेश नागरकोटी की अंतिम गेंद पर आया, जिसने धोनी समेत टीम स्टाफ को जश्न में डुबो दिया। आईपीएल की शुरुआत 2008 में हुई थी लेकिन किसी भी मैच में ऐसा कोई सूरमा सामने नहीं आया, जिसने छक्के से मैच जितवाया हो। 
तीन बार छक्के से जीत दिलाने वाले रोहित शर्मा इकलौते बल्लेबाज : 2009 में इसकी शुरुआत मुंबई इंडियंस के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने की और कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ छक्का उड़ाकर मैच जितवाया। रोहित आईपीएल के ऐसे पहले बल्लेबाज हैं, जिन्होंने छक्का लगाकर मैच जिताने का कारनामा 3 मर्तबा किया है।  
2011 आईपीएल के सूरमा बल्लेबाज : 2011 के आईपीएल में मुंबई की टीम पुणे वॉरियर्स के खिलाफ जीत की दहलीज पर थी और आखिरी गेंद बाकी थी। अंतिम गेंद पर रोहित शर्मा के बल्ले से विजय छक्का उड़ा। इसी आईपीएल में अं‍बाती रायुडू ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ छक्का लगाकर जीत दिलाई थी।
 
2012 में 3 बल्लेबाज बने ‍'सिक्सर किंग' : 2012 के आईपीएल में तीन बल्लेबाज ऐसे रहे, जिन्होंने मैच की अंतिम गेंद पर विजयी छक्का लगाकर 'सिक्सर किंग' बनने का रुतबा हासिल किया था। रोहित शर्मा ने डेकन चार्जर्स के खिलाफ, सौरभ तिवारी ने पुणे वॉरियर्स के खिलाफ और ड्‍वेन ब्रावो ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मैच की आखिरी गेंद पर छक्का जड़ा था।
धोनी भी कर चुके हैं बड़ा कारनामा : चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान 39 वर्षीय महेंद्र धोनी बेशक अपने क्रिकेट करियर के उतार पर हों लेकिन उन्होंने अपनी टीम को 3 बार आईपीएल का चैम्पियन बनवाने में अहम भूमिका अदा की है। 2016 के आईपीएल में धोनी ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ अंतिम गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई थी।
 
2 साल के सूखे को सेंटनर ने खत्म किया : आईपीएल के 2017 और 2018 के संस्करण में किसी भी टीम का ऐसा कोई बल्लेबाज नहीं सामने आया, जिसने अंतिम गेंद पर छक्का लगाया हो। सेंटनर ने 2019 के आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आखिरी गेंद पर छक्का लगाया था।
 
2020 में निकोलस पूरन बने पहले बल्लेबाज : 2020 के आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के निकोलस पूरन पहले बल्लेबाज बने, जिन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ अंतिम गेंद पर विजयी छक्का लगाया। इस साल छक्के से जीत दिलाने वाले दूसरे बल्लेबाज रवींद्र जडेजा बने, जिन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स ‍के खिलाफ अंतिम गेंद पर गगनभेदी छक्का उड़ाया।
 
चेन्नई सुपर किंग्स के नाम रिकॉर्ड दर्ज : चेन्नई सुपर किंग्स की टीम भले ही आईपीएल के इतिहास में पहली बार प्लेऑफ से बाहर हुई हो लेकिन उसने एक रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लिया। चेन्नई लक्ष्य का पीछा करते हुए अंतिम गेंद पर सबसे ज्यादा 6 जीत दर्ज करने वाली टीम बन गई है। मुंबई इंडियंस 5 बार, राजस्थान रॉयल्स 4 बार और किंग्स इलेवन पंजाब 3 बार ऐसा कमाल करने वाली टीम हैं।
ये भी पढ़ें
KKR vs CSK : रोमांचक जीत से खुश धोनी ने कहा, हमारी रणनीति सफल रही