IPL 2019 : आईपीएल के ये सितारे, टीम इंडिया में आते-आते रह गए किनारे

2019 के 12वें संस्करण में सभी टीमें अपना लाजवाब प्रदर्शन कर रही हैं। अभी तक खेले गए मैचों की बात करें तो सभी टीमों ने अपना उम्दा प्रदर्शन कर क्रिकेटप्रेमियों को अपना मुरीद कर दिया है। इसी विश्व लीग से निकले 3 ऐसे युवा खिलाड़ी हैं जिन्होंने आईपीएल में अपनी छाप छोड़ी, लेकिन भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा बनने की आस में ये कहीं गुम हो गए।

संजू सैमसन : सन् 2013 में जब संजू सैमसन क्रिकेट में अपना नाम कमा रहे थे, उस समय इस खिलाड़ी को देखकर ऐसा लग रहा था कि आने वाले समय में ये बल्लेबाज भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी की जगह ले सकता है। उस समय संजू ने अपने खेल-प्रदर्शन से सभी का ध्यान अपनी ओर खींच रखा था। इसी की वजह से उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम में भी जल्द मौका मिलने वाला था।

सन् 2014 में उन्हें भारत ने इंग्लैंड दौरे के लिए चुना लेकिन बल्लेबाजी करने का मौका नहीं दिया। 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ उन्होंने पदार्पण किया और एकमात्र टी-20 मैच खेला और उसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। संजू 12 से 15 महीनों तक तो इंडिया 'ए' टीम में मौजूद थे और आखिरकार वहां से भी बाहर कर दिए गए। संजू को आखिरी बार 'ए' टीम का प्रतिनिधित्व किए हुए 6 से 7 महीने हो चुके है। वे आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स और केरल के लिए एक बेहतरीन रन स्कोरर रहे हैं।
उन्मुक्त चंद : 2012 के अंडर-19 विश्व कप के फाइनल मुकाबले में अपने बल्ले से शतक जड़कर सभी को अपना मुरीद करने वाले उन्मुक्त चंद को उस समय विराट कोहली के स्थान पर देखा जा रहा था। उनकी उम्दा बल्लेबाजी को देखकर उन्हें 'भविष्य का कोहली' भी कहा जाने लगा था।
उसके बाद उन्मुक्त को आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स ने अपनी टीम में शामिल किया। लेकिन उनके आईपीएल और घरेलू स्तर के मैचों में असफल रहने के कारण उन्हें टीम से बाहर होना पड़ा। वे उसके बाद से आईपीएल की किसी टीम से नहीं खेले हैं और अभी दिल्ली की प्लेइंग इलेवन में शामिल होने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।
सूर्यकुमार यादव : आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स और रणजी क्रिकेट में मुंबई से खेलते हैं। यादव ने आईपीएल में मैच फिनिशर की भूमिका निभाई है। लेकिन यादव की किस्मत इतनी खराब रही कि ये भारतीय क्रिेकेट टीम में एक भी बार अपना नाम दर्ज नहीं करा सके। ये युवा पीढ़ी के ऐसे बदकिस्तम खिलाड़ी है जिनके पास क्रिेकेट से सारे गुर होने के बाद भी किसी चयनकर्ता का भरोसा नहीं जीत सके।फोटो साभार ट्विटर

 

और भी पढ़ें :