पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर चीन ने दिया बड़ा बयान

पुनः संशोधित मंगलवार, 1 सितम्बर 2020 (20:53 IST)
हमें फॉलो करें
बीजिंग। (China) ने मंगलवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वे दिग्गज राजनेता थे और उनका जाना भारत-चीन की मित्रता के लिए बड़ी क्षति है।

84 वर्षीय मुखर्जी का सोमवार को दिल्ली के एक अस्पताल में हृदयाघात से निधन हो गया। वे 21 दिन से अस्पताल में थे और अनेक बीमारियों से जूझ रहे थे।
चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक सवाल के जवाब में यहां मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी के दिग्गज राजनेता थे। 50 वर्ष की राजनीतिक यात्रा में उन्होंने चीन-भारत संबंधों में सकारात्मक योगदान दिया है।
चीन के राष्ट्रपति (Xi Jinping) की 2014 में हुई भारत यात्रा और मुखर्जी से मुलाकात का जिक्र करते हुए चुनयिंग ने कहा कि बैठक के बाद दोनों देशों ने करीबी विकास साझेदारी के निर्माण के लिए संयुक्त बयान जारी किया था।

उन्होंने कहा कि यह भारत और चीन की मित्रता तथा भारत के लिए भारी क्षति है। हम उनके निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हैं और भारत सरकार तथा उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त करते हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :