इस्लामिक स्टेट के खिलाफ अरब देश एकजुट

isis iraq
जेद्दाह| Last Updated: शुक्रवार, 12 सितम्बर 2014 (14:05 IST)
हमें फॉलो करें
जेद्दाह। इराक और सीरिया में सक्रिय आतंकवादियों को नेस्तनाबूद करने के लिए 10 अरब देशों ने अमेरिका को सैन्य सहयोग देने पर सहमति दे दी हैं। इनमें खाड़ी सहयोग परिषद के 6 देश भी शामिल हैं।

सऊदी विदेश मंत्री प्रिंस सऊद अल फैसल की अध्यक्षता में गुरुवार को यहां हुई एक बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि बैठक में हिस्सा लेने वाले सभी देशों ने सीरिया और इराक में सक्रिया आईएस के खात्मे के लिए विस्तृत रणनीति पर चर्चा की।

बैठक में कुवैत, कतर, बहरीन, ओमान, लेबनान, जॉर्डन, इराक और मिस्र के विदेश मंत्रियों, अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन कैरी और अरब लीग के महासचिव नबील अल अरबी ने हिस्सा लिया।
तुर्की ने हालांकि इस बयान में हिस्सेदारी नहीं की, लेकिन कहा कि वह आईएस के खिलाफ लड़ाई में हिस्सा लेगा। बयान में कहा गया कि 10 और अमेरिकी के खिलाफ लड़ाई में एकसाथ हैं। इन सभी देशों ने आईएस से निपटने के लिए एक-दूसरे को हरसंभव मदद देने पर सहमति दी।
संयुक्त बयान में आईएस की वित्तीय सहायता रोकने और उसकी चरमपंथी विचारधारा का विरोध करने के लिए विस्तृत रणनीति को बढ़ावा देने के बारे में भी उल्लेख किया गया।

इससे पहले कैरी ने कहा था कि इराक में आईएस के आतंकवादियों के खिलाफ अभियान में अरब देश एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। उन्होंने अरब देशों के विदेश मंत्रियों के साथ बैठक के बाद कहा कि इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों के खिलाफ अभियान में अरब देशों की अहम भूमिका होगी। (वार्ता)



और भी पढ़ें :