भारत से दुश्मनी कर क्यों ‘भिखारी’ बन गए पाक पीएम इमरान खान?

विकास सिंह| पुनः संशोधित सोमवार, 19 अगस्त 2019 (08:15 IST)
में अनुच्छेद 370 हटाने के भारत के अपने फैसले पर को टांग अड़ाना अब महंगा पड़ रहा है। भारत को युद्ध की गीदड़ भभकी देने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की अब इंटरनेशनल बेइज्जती हो रही है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मुंह की पटखनी के बाद अब पाक पीएम अब सोशल मीडिया पर ‘भिखारी’ के रूप में जमकर ट्रोल हो रहे हैं।
दरअसल में गूगल (Google) सर्च इंजन पर भिखारी शब्द लिखने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की हाथ में कटोरा लिए हुए एक एडिट तस्वीर आ रही है जिसमें उन्हें भिखारी के तौर पर दिखाया गया है। इसके बाद इमरान खान सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्‍विटर पर भिखारी के तौर पर जबरदस्त ट्रोल हो रहे हैं।
imran khan bhikhari" width="384" />
ट्रोल करने वाले इमरान खान का मजाक उड़ाते हुए इसे भारत के साथ दुश्मनी करने का नतीजा बता रहे हैं। सोशल मीडिया पर इमरान की ऐसी कई तस्वीरें ट्रोल हो रही है जिसमे इमरान को अलग अलग तरह से भिखारी बताते हुए उनका मजाक उड़ाया जा रहा है। ट्‍विटर पर हैशटैग के साथ भिखारी शब्द ट्रेंड कर रहा है जिसमें अलग-अलग यूजर अपने कमेंट दे रहे हैं।
इमरान क्यों बनें ‘भिखारी’ : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के भारत के फैसले के बाद विरोधस्वरूप पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत से व्यापारिक रिश्ते तोड़ लिए हैं, जिसके चलते पाकिस्तान में महंगाई अपने रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है।
पहले से ही गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहा पाकिस्तान में अब खाने के लाले पड़ने लगे हैं। कंगाली के दौर से गुजर रहे पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था इस समय कर्ज के भरोसे चल रही है।

हाल में ही पाकिस्तान ने चीन और सऊदी अरब से दो अरब डॉलर का कर्ज लिया है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान पर इस समय करीब 105 अरब अमेरिकी डॉलर का विदेशी कर्ज है जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है।
इसके साथ ही भारत के साथ दुश्मनी करने के बाद अब अमेरिका ने भी पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता में करीब 44 करोड़ डॉलर की कटौती कर दी है। इसके साथ ही ब्रिटेन की संसद ने भी पाकिस्तान को की जाने वाली मदद में कटौती कर दी है।
‘सब्जीकल स्ट्राइक’ ने बनाया ‘भिखारी’ : भारत के साथ व्यापारिक संबंधों पर रोक लगा दिए जाने के बाद पाकिस्तान को भारत से जाने वाली सब्जी के दाम अब रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए हैं।
पाकिस्तान में भारत से बड़े पैमाने पर टमाटर ,लहसुन, अदरक, मिर्ची समेत हरी सब्जियों का निर्यात होता है, लेकिन भारत से इनकी सप्लाई रुक जाने के बाद इनके दाम रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए हैं।

पिछले दिनों पाकिस्तान में एक किलो टमाटर के दाम 300 रुपए प्रतिकिलो तक पहुंच गए थे। इसके साथ ही हरी सब्जियों की कीमत भी 5 अगस्त से पहले के मुकाबले दोगुने से तिगुने स्तर तक पहुंच गई है।

दूध और दाल के दाम आसमान पर : भारत के साथ कारोबार बंद होने के बाद पाकिस्तान में रोजमर्रा में इस्तेमाल होने वाली वस्तुओं के दाम आसमान पर पहुंच गए हैं।
पाकिस्तान में इन दिनों एक लीटर दूध 100 से 120 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है, वहीं एक पैकेट ब्रेड की कीमत 50-60 रुपए हो गई है। इसके साथ ही भारत से आने वाली अरहर की दाल 180 रुपए, मसूर दाल 150 रुपए और चने की दाल 160 रुपए प्रतिकिलो बिक रही है। अगर लंबे समय तक पाकिस्तान और भारत के बीच व्यापारिक संबंध स्थगित रहे तो आने वाले समय पाक में आंतरिक विद्रोह के हालत तक बन सकते हैं...

 

और भी पढ़ें :