88 सालों बाद अमेरिकी राष्ट्रपति की पहली क्यूबा यात्रा

हवाना| पुनः संशोधित सोमवार, 21 मार्च 2016 (14:32 IST)
हवाना। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा क्यूबा की ऐतिहासिक 2 दिन की यात्रा पर रविवार रात को हवाना पहुंच गए। पिछले 88 सालों में यह किसी भी अमेरिकी राष्ट्रपति की पहली क्यूबा यात्रा है। पुलिस ने 200 लोगों को हिरासत में लिया है।
> ओबामा के दौरे के विरोध में हवाना में प्रदर्शन भी हुआ। पुलिस ने 200 से ज्यादा मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया था, लेकिन बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए सुरक्षाबलों ने पूरे शहर को अपने कब्जे में ले लिया है।> 1959 में क्यूबा क्रांति के बाद दोनों देशों के बीच सभी तरह के रिश्ते खत्म हो गए थे। क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो और ओबामा ने दिसंबर 2014 में पुरानी कड़वाहट को भुलाकर फिर से संबंध बहाल करने पर सहमति जताई थी।

अमेरिकी राष्ट्रपति के इस दौरे से दोनों देशों के बीच किसी अहम समझौते की उम्मीद नहीं है, लेकिन 57 सालों से चल रही रंजिश को खत्म करने में यह दौरा अहम भूमिका निभाएगा। हालांकि दोनों देशों के बीच पिछले कुछ महीने में टेलीकॉम समझौता, हवाई संपर्क और पर्यावरण संरक्षण में सहयोग जैसे कई अहम समझौते हुए हैं।

ओबामा पहले ही साफ कर चुके हैं कि उनके एजेंडे में ग्वांतानामो बे के नौसैन्य अड्डे का मुद्दा शामिल नहीं है। ओबामा मंगलवार को क्यूबा के सरकारी टीवी चैनल पर संबोधन भी देंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति बेसबॉल मैच का आनंद भी उठाएंगे।

ओबामा ने क्यूबा रवाना होने से पहले ट्वीट किया था कि क्यूबा सरकार के साथ हमारे मतभेद अब भी हैं जिन्हें मैं सीधे तौर पर उठाऊंगा। अमेरिका विश्वभर में मानवाधिकारों के लिए आवाज उठाता रहेगा।

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि अगले महीने मैं क्यूबा की यात्रा पर जाऊंगा, जो क्यूबा के लोगों के जीवन में सुधार की दिशा में एक प्रयास है। (भाषा)



और भी पढ़ें :