0

भादौ मास में 30 मनोकामनाओं की पूर्ति करेंगे 30 विशेष शिवलिंग

गुरुवार,अगस्त 13, 2020
0
1
भगवान शिव के पुत्र गणेशजी का विवाह प्रजापति विश्वकर्मा की पुत्री ऋद्धि और सिद्धि नामक दो कन्याओं से हुआ था। सिद्धि से 'क्षेम' और ऋद्धि से 'लाभ' नाम के दो पुत्र हुए। लोक-परंपरा में इन्हें ही शुभ-लाभ कहा जाता है। गणेजी का विवाह भी बड़ी रोचक परिस्थिति ...
1
2
गोगाजी राजस्थान के लोक देवता हैं जिन्हें 'जाहरवीर गोग राणा के नाम से भी जाना जाता है। राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले का एक शहर गोगामेड़ी है।
2
3
भगवान श्रीकृष्ण का जन्मदिन हिन्दू माह भाद्रपद की अष्टमी को आता है इस दिन को जन्माष्टमी कहते हैं। संपूर्ण भारत में भगवान श्रीकृष्ण के वैसे तो कई मंदिर है परंतु 5 ऐसे खास मंदिर है जो उनके जीवन में खास महत्व रखते हैं।
3
4
घर में नए शिशु का आगमन ढेर खुशियां ले कर आता है। उसकी चंचलता, चपलता, मुस्कुराहट और नटखट पन से सारा क्षोभ, सारा कष्ट पल भर में ही लोप हो जाता है।
4
4
5
·भगवान विष्णु ने भगवान शिव से उनका बाल रूप देखने का अनुरोध किया और उनकी इच्छा पूरी करने के लिए भगवान शिव ने बालक के रूप गृहपति अवतार लिया। उसके बाद भगवान शिव ने भी भगवान विष्णु के बाल रूप को देखने की इच्छा जताई।
5
6
द्वापर युग में भोजवंशी राजा उग्रसेन मथुरा में राज्य करता था। उसके आततायी पुत्र कंस ने उसे गद्दी से उतार दिया और स्वयं मथुरा का राजा बन बैठा।
6
7
राधा-कृष्ण एक हैं। राधा कृष्ण का स्त्री रूप हैं और कृष्ण राधा का पुरुष रूप। उनकी प्रेम भरी नटखट वाकचातुर्य में श्री कृष्ण की पराजय भी बड़ी मोहिनी है-
7
8
वर्तमान में दुनिया में नास्तिकता तेजी से बढ़ती जा रही है। कट्टर इस्लामिक देश भी इससे अछूते नहीं रहे हैं। दरअसल आधुनिक काल में तार्किक प्रणाली बढ़ने और साइंस के द्वारा धर्म के कई आधार स्तभ गिरा दिए जाने के चलते अब लोगों का धर्म पर विश्वास नहीं रहा। ...
8
8
9
जन्माष्टमी पर आपने सुना होगा कि 'स्मार्त' व 'वैष्णव' पर्व अलग-अलग दिन मनेगा,अक्सर पंचांग या कैलेण्डर में भी व्रतादि तिथियों के आगे 'स्मार्त' व 'वैष्णव' लिखा देखा होगा।
9
10
नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर द्वारा भगवान गौतम बुद्ध को 'भारतीय महापुरुष' कहे जाने पर ऐतराज जताया और फिर से अयोध्या को नेपाल के बीरगंज के पास होने का दावा करते हुए वहां पर राम मंदिर बनाए जाने की घोषणा की है। ...
10
11
12 अगस्त 2020 को कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाएगी। भगवान श्रीकृष्ण की लीलाएं भारतीय जनमानस में रच बच गई हैं। उन्हीं लीलाओ में उनकी प्रेम लीला भी शामिल है।
11
12
भगवान श्रीकृष्ण भारतीय जनमानस के प्रिय आराध्य हैं,आइए जानिए उनके दिव्य अस्त्र-शस्त्र..
12
13
बलराम का क्रोध जाग्रत हो गया। तब बलराम ने अपना रौद्र रूप प्रकट कर दिया। वे अपने हल से ही हस्तिनापुर की संपूर्ण धरती को खींचकर गंगा में डुबोने चल पड़े।
13
14
Balarama Jayanti 2020 : बलराम जयंती 9 अगस्त 2020 यानी आज मनाई जाएगी। प्रभु बलराम को भगवान विष्णु के 8वां अवतार माना गया है। इस दिन भगवान शेषनाग ने द्वापर युग में श्रीकृष्ण के बड़े भाई के रूप में जन्म लिया था। जानिए 10 प्रमुख बातें...
14
15
9 अगस्त 2020 यानी आज बलराम जयंती का पर्व (Balarama Jayanti Festival) मनाया जा रहा है। इस दिन को भगवान श्री कृष्ण के बड़े भाई बलराम के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है।
15
16
मथुरा। ब्रज सहित समूचे देश और विदेश में कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व 12 अगस्त को मनाया जाएगा, वहीं नंदगांव में 1 दिन पूर्व इसका आयोजन किया जाएगा, जहां पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भगवान कृष्ण का बचपन व्यतीत हुआ था।
16
17
एक नगर में दो स्त्रियां रहती थीं। दोनों एक ही परिवार की थीं और रिश्ते में देवरानी-जेठानी लगती थीं। देवरानी का नाम सलोनी था जो बड़ी ही नेक, सदाचारिणी तथा दयालु थी। जेठानी का नाम तारा था, वह स्वभाव से बड़ी ही दुष्ट थी।
17
18
हलषष्ठी व्रत श्रीकृष्ण के ज्येष्ठ भ्राता श्री बलरामजी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इसी दिन श्री बलरामजी का जन्म हुआ था। हल षष्ठी की व्रतकथा यह है।
18
19
आज 8 अगस्त की रात दुर्लभ खगोलीय घटना होने जा रही है, जिममें एक रात में सिर्फ 8 घंटे में सौर मंडल के 8 ग्रह को एक साथ देखे जा सकेंगे। साल के 8 वें महिनें की 8 तारीख को बन रहे इस अद्भुत संयोग में सोम, मंगल, बुध, गुरू, शुक्र, शनि और रवि एक ही रात्रि ...
19