शिमला मिर्च की 5 रेसिपी, 10 फायदे जानिए

Bell paper
हमेशा से ही अपने गहरे हरे रंग के कारण आकर्षण का केंद्र रही है। यह सिर्फ दिखने और स्वाद में ही मजेदार नहीं है, बल्कि इसके सेहत लाभ भी कमाल के हैं। खाने की डिशेज में इसका कई तरह से प्रयोग किया जाता है और खाने का स्वाद बढ़ाया जा‍ता है। शिमला मिर्च बाजार में अलग-अलग रंग जैसे- लाल, पीली, बैंगनी, नारंगी और हरी आदि रंगों में पाई जाती है। इसे अंग्रेजी में (Capsicum) और (Bell Pepper) कहा जाता है। इसकी तासीर गर्म होती है अत: लोग सर्दियों में इसका सेवन ज्यादा करते है।

आप यहां जानिए शिमला मिर्च की 5 लाजबाब डिशेज और 10 कमाल के फायदे-

1. रोस्टेड बेल पेपर सूप

सामग्री :
250 ग्राम पीली शिमला मिर्च, 1 लीटर वेजिटेबल स्टॉक,
30 मिली. व्हाइट वाइन, 250 ग्राम लाल और 100 ग्राम प्याज, 50 ग्राम सेलरी, 50 ग्राम लीक, 25 ग्राम लहसुन, 50 ग्राम गाजर, 15 मिली. ऑलिव ऑयल, शिमला मिर्च स्टॉक, काली मिर्च पावडर स्वादानुसार, नमक आवश्यकतानुसार ।

विधि :
सबसे पहले माइक्रोवेव अवन (ओवन) को 180 डिग्री सेंटीग्रेड पर गर्म कर लें। अब शिमला मिर्च पर ऑलिव ऑयल लगाकर 10-12 मिनट तक रोस्ट करें। तत्पश्चात फूड पैन में इसे ढ़क्कन लगाकर कुछ देर के लिए रख दें। अब शिमला मिर्च का छिलका उतारकर बीज निकाल दें। एक तरफ रखें।

कटी हुई लीक सेलरी, प्याज व लहसुन को एक साथ भूनें। फिर शिमला मिर्च डालकर 5-10 मिनट तक दोबारा भूनें। पैन में व्हाइट वाइन डालें। फूड प्रोसेसर में सभी सब्जियां डालकर प्यूरी बनाएं। अब शिमला मिर्च स्टॉक को सूप पॉट में डालकर गर्म करें। फिर इसमें सब्जियों की प्यूरी डालकर मिलाएं। 10-15 मिनट तक पकाएं। अब सूप को गाढ़ा करने के लिए मिलाएं। नमक व कालीमिर्च डालकर चलाएं। लगातार चलाएं ताकि गुठली न बनने पाए। तैयार सूप बाउल में डालकर गरमा-गरम सर्व करें।


2. टेस्टी रवा उपमा


सामग्री :
1 कप रवा, 1 बड़ी शिमला मिर्च बारीक कटी हुई, 1 चम्मच सोया आटा, 1 चम्मच मक्के का आटा, 1 चम्मच उड़द दाल, 1 कप गाजर (बारीक कटे हुए), आधा कप मटर के दाने, आधा कप अंकुरित मोठ व चने, नमक, कालीमिर्च स्वादानुसार, तेल 2 चम्मच, राई, हरी मिर्च, मीठा नीम (छौंक के लिए), गार्निश के लिए- हरा धनिया, नारियल का बूरा, 1 चम्मच नींबू का रस, 2 कटे प्याज व 2 कटे टमाटर।

विधि :

उड़द दाल को साफ करके एक घंटे के लिए भिगो दें। फिर एक पैन में तेल गरम करें और छौंक की सामग्री डालकर दाल भूनें। तत्पश्चात शिमला मिर्च, गाजर, मटर व मोठ डालकर पकाएं। इसमें रवा, सोया आटा व मक्के का आटा डालकर अच्छी तरह भूनें। अब चने उबाल कर डालें।

साथ ही नमक, कालीमिर्च व नींबू का रस डालें। 5-6 कप गर्म पानी डालकर तब तक चलाएं, जब तक कड़ाही न छोड़ने लगे। अब रवा उपमा पर हरा धनिया, नारियल का बूरा, प्याज, टमाटर डालें और गरमा-गरम रवा उपमा सर्व करें।

3. शिमला मिर्च विद पनीर

सामग्री :
250 ग्राम पनीर, 3 बड़ी शिमला मिर्च, 2 बड़े चम्मच गाढ़ा दही, एक चम्मच लहसुन-अदरक का तैयार पेस्ट, 1 से डेढ़ चम्मच लाल मिर्च पावडर, पाव चम्मच काली मिर्च, तेल व नमक स्वादानुसार।

विधि :
पनीर लेकर तिकोने आकार में काट कर बड़े-बड़े पीसेस कर लें। अब शिमला मिर्च को लंबी काटकर रख लें। तत्पश्‍चात दही में सारा मसाला डालकर अच्छी तरह मिला लें। अब इसमें पनीर डालकर आधा घंटा रख छोड़े। अब एक कड़ाही में थोड़ा-सा तेल गरम करके शिमला मिर्च को भूनकर मसाला मिला पनीर मिलाएं। इसे धीमी आंच पर पकाएं और गरमा-गरम रोटी के साथ सर्व करें।

Bell paper Recipes



4. स्वादिष्ट मिक्स पुलाव विद भाजी मसाला

सामग्री :
1 कटोरी बासमती चावल, 2 गाजर, 2 शिमला मिर्च, 1 टमाटर, 2 प्याज, 2 उबले आलू, थोड़ी सी मटर, 2 चम्मच पावभाजी मसाला, हल्दी, नमक, मिर्च सभी आवश्यकतानुसार, थोड़ा तेल।

विधि :
सर्वप्रथम चावल पकाने के बाद उसे एक थाली में फैला दें। पैन में थोड़ा तेल डालकर उसमें प्याज, टमाटर, आलू, शिमला मिर्च, गाजर-मटर (उबले) के छोटे-छोटे टुकड़े कर, डालकर पका लें। उसमें पावभाजी मसाला व आवश्यकतानुसार नमक, हल्दी, मिर्च डाल लें। इसमें पके चावल मिलाएं। एक अच्छी भाप आने के बाद उतारें और परोसें।


5. टेस्टी वेज नूडल्स विद शिमला टेस्ट

सामग्री :
1 कप नूडल्स, 2 बड़ी शिमला मिर्च, 1 चम्मच सिरका, 1 टी चम्मच सोया सॉस, 1 चम्मच तेल, 1/2 कप बारीक कटी लंबी सब्जियां- शिमला मिर्च, पत्ता गोभी, गाजर, प्याज और हरा प्याज, 1/2 चम्मच लहसुन बारीक कटी, चुटकी भर अजिनोमोटो, नमक स्वादानुसार।

विधि :
सबसे पहले नूडल्स को उबाल कर अलग रख लें। अब एक पैन में तेल गर्म करें। लहसुन, प्याज डालें और 2 मिनिट के लिए भूनें। अब हरी कटी प्याज को छोड़कर सभी सब्जियां डालें। 1 मिनट इन्हें भी भूनें और फिर उबले नूडल्स डालें। ऊपर से अजिनोमोटो, सिरका, सोया सॉस, नमक डालें। सभी को मिक्स करें और हरी कटी प्याज से सजाकर टेस्टी वेज नूडल्स पेश करें।


शिमला मिर्च के 10 फायदे :

1 ताजी हरी शिमला मिर्च में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, फाइबर, कैरोटीनॉइड्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है।

2 शिमला मिर्च में पाए जाने वाले पोषक तत्व, एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते है। इसलिए कहा जा सकता है कि त्वचा को स्वस्थ, सुंदर बनाए रखने के लिए शिमला मिर्च का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है।

3 शिमला मिर्च में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटीइंफ्लेमेटरी तत्व एवं सल्फर, कैरोटीनॉइड लाइकोपीन की मात्रा भी भरपूर होती है, जिसके कारण यह कैंसर जैसी बीमारी से बचने में भी लाभकारी है।

4 अगर आपके शरीर में आयरन की कमी है, तो इसका सेवन बेहद फायदेमंद है। इसमें मौजूद विटामिन सी आयरन को सोखने में मददगार है। यह आपको एनीमिया से बचाने में भी सहायक होगा।

5 डाइबिटीज कंट्रोल करना चाहते हैं, तब भी शिमला मिर्च आपके लिए मददगार साबित होगी। यह ब्लड शुगर के लिए आवश्यक सही स्तर को बनाए रखती है और डाइबिटीज से आपकी रक्षा करती है।

6. अगर आपके घुटनों व जोड़ों में समस्या है, तो शिमला मिर्च का सेवन करना आपके लिए बेहद लाभकारी होगा। इसके प्रयोग से आर्थराइटिस की समस्या में भी लाभ पाया जा सकता है।

7. शिमला मिर्च एंटी-एजिंग गुण पाए जाते हैं इसीलिए त्वचा में निखार के लिए इसका उपयोग सभी सौंदर्य उत्पाद में एंटी-एजिंग के तौर पर उपयोग किया जाता है।

8. शिमला मिर्च का सेवन रजोनिवृत्ति महिलाओं (महिलाओं में मासिक धर्म का बंद होना) के लिए भी लाभदायक माना जाता है, क्योंकि इसमें मौजूद फ्लेवोनोइड, रजोनिवृत्ति के दौरान होने वाली परेशानियों और उसके लक्षणों को कम करने में सहायक सिद्ध हो सकता है।

9. शिमला मिर्च में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण पाए जाते है, जो गठिया रोग में होने वाले दर्द और सूजन को कम करने में सहायक होते है। अत: गठिया रोगियों को शिमला मिर्च का सेवन लाभदायक है।

10. जिस किसी व्यक्ति के शरीर में खून की कमी हो तो उसे पूरा करने के लिए भी शिमला मिर्च का सेवन लाभदायक होता है। एनीमिया रोग से बचाव में शिमला मिर्च में मौजूद आयरन और विटामिन-सी सहायक होता है।





और भी पढ़ें :