कबीट के फायदे हैरान कर देंगे आपको

kabit health benefits  
कबीट या कैथा यह एक आयुर्वेद औषधि के रूप में जाना जाता है। इसका विशाल पेड़ होता है। गर्मी के दिनों में यह पेड़ से पककर गिर जाते हैं। इनका स्वाद खट्टा-मिठा होता है। इसके सेवन से विभिन्न प्रकार के रोग दूर करने में मदद मिलती है। आयुर्वेद औषधि के रूप में इसका भिन्न-भिन्न प्रकार से प्रयोग किया जाता है। तो कई प्रकार के व्यंजन और ठंडा बनाने में भी उपयोग किया जाता है। कबीट अधिक पक जाने पर मीठा लगता है। इसे आप एक फल के रूप में भी खा सकते हैं।
 
कबीट को अलग-अलग जगह पर अन्य नामों से जाना जाता है। जैसे एप्पल सेब, हाथी सेब, लकड़ी सेब। भारत में मूल रूप से इसका नाम कैथा है, वहीं वनस्पतिक नाम लीमोन्या आकीदीस्सीमा है। इस पेड़ की ऊंचाई करीब 30 फीट होती है। यह फल ऊपर से काफी सख्त होता है और अंदर से एकदम नरम।
 
तो आइए जानते हैं कबीट से होने वाले फायदे-  
 
1. दिल के लिए लाभदायक- कबीट के पत्तों का उपयोग कर काढ़ा बनाया जा सकता हैं। इस काढ़े के सेवन से कोलेस्ट्रॉल और रक्तचाप यानी ब्लड प्रेशर में आराम मिलता है। काढ़े से लिपिड प्रोफाइल और ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम किया जा सकता है। दिल को स्वस्थ रखने के लिए काढ़े का सेवन कर सकते हैं।
 
2.पाचनतंत्र को रखें ठीक- कैथी में मौजूद एंटीफंगल और एंटी पेरासिटिक पाचन क्रिया को ठीक करने में मदद करते हैं। इसके सेवन से आंत में होने वाले कीड़े नष्ट हो जाते हैं।
 
3.कान दर्द में राहत- कैथा का उपयोग कान में दर्द होने पर भी किया जा सकता है। इसमें मौजूद तत्वों से जल्द आराम मिलता है। कान में दर्द होने पर 2 बूंद कैथा के रस की डाल लें।
 
4.कैंसर से बचाएं- कैथा का सेवन करने से महिलाओं को गंभीर बीमारी की संभावना कम हो सकती है। इसके सेवन से गर्भाशय कैंसर और स्तन कैंसर को रोकने में मदद करता है। डिलेवरी होने के बाद परेशानियों से निजात दिलाता है। इसमें मौजूद तत्व महिला में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का स्तर बढ़ाने में भी सहायक होता है।
 
5.उल्टी में मिलेगा आराम- कैथा फल का रस 5-10 मिली ग्राम, 500 मिली ग्राम पिप्पली चूर्ण और थोड़ा सा शहद। तीनों को अच्छे से मिक्स कर लें। इसके सेवन से उल्टी में जल्द आराम मिल जाएगा।
 
6.ब्लड प्यूरीफाई- कैथा का 50 मिलीग्राम रस, एक कप गुनगुना पानी और चीनी। इन तीनों को मिक्स करके पीलें। इसे पीने से आपका ब्लड साफ होता है, विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। इससे लिवर और गुर्दा भी स्वस्थ रहता है।
 
7.एनर्जी का स्त्रोत- कैथा के सेवन से आपके शरीर में ऊर्जा का संचार बढ़ जाता है। कैथा का सेवन करने से मेटाबॉलिजम बढ़ता है। इसमें प्रोटीन की भी अच्छी मात्रा होती है। मांसपेशियां मजबूत होती है। साथ ही शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने में मदद करता है।
 
8.कैथा की चटनी- कैथा के सेवन से शरीर संबंधित कई सारी परेशानियां कम हो जाती है। साथ ही इसका सेवन चटनी बनाने में विशेष रूप से किया जाता है। जिन्हें खट्टा पसंद है वह इससे बनी चटनी बड़े चाव से खाते हैं। कैथा में भी विटामिन सी की मात्रा मौजूद हेाती है जो शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्व है।
 
9.इम्यून सिस्टम बूस्ट करें- कैथा के प्रयोग से रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है। इसका सेवन करने से बैक्टीरिया पनपने का खतरा कम होता है और वायरल संक्रमण की चपेट में भी कम आते हैं।
 
10. पुरुषों को सेवन करना चाहिए- कैथा के साथ पत्तियां भी गुणकारी है। इसके सेवन से पुरुषों के प्रजनन प्रणाली भी मजबूत होती है, कमजोरियों को दूर करने में मदद करता है।> >




और भी पढ़ें :