गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. चुनाव 2022
  2. गुजरात विधानसभा चुनाव 2022
  3. न्यूज: गुजरात विधानसभा चुनाव 2022
  4. Asaduddin Owaisi hit back at Amit Shah
Written By
पुनः संशोधित शनिवार, 26 नवंबर 2022 (19:36 IST)

'दंगाइयों को सबक' वाले बयान पर भड़के ओवैसी, अमित शाह पर किया पलटवार

अहमदाबाद। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की एक टिप्पणी को लेकर उन पर निशाना साधते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति हमेशा सत्ता में नहीं रहता है। ओवैसी ने शाह पर सत्ता के नशे में चूर होने का भी आरोप लगाया।

उल्लेखनीय है कि शाह ने शुक्रवार को एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि गुजरात में पहले असामाजिक तत्व हिंसा में लिप्त होते थे, लेकिन 2002 में ‘सबक सिखाने’ के बाद अपराधियों ने ऐसी गतिविधियां बंद कर दीं और भारतीय जनता पार्टी ने राज्य में ‘स्थाई शांति’ कायम की।

गुजरात में फरवरी, 2002 में गोधरा रेलवे स्टेशन पर एक ट्रेन में आग लगने की घटना के बाद राज्य के कई हिस्सों में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। शाह की टिप्पणी के कुछ घंटे बाद, ओवैसी ने अहमदाबाद के मुस्लिम बहुल जुहापुरा इलाके में शुक्रवार शाम एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा नेताओं ने यह सबक सिखाया कि आप बिलकिस बानो के बलात्कारियों को छुड़वा देंगे।

एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा, मैं आपसे कहना चाहूंगा कि 2002 में आपने यह सबक सिखाया कि आप बिलकिस बानो के बलात्कारियों को छुड़वा देंगे। आपने सबक सिखाया कि आप बिलकिस बानो के सामने उसके तीन साल के बच्चे की हत्या करने वालों को छुड़वा देंगे।

उन्होंने कहा, इस सबक के साथ आपने सिखाया कि एहसान जाफरी की हत्या की जाएगी। आपने गुलबर्ग सोसाइटी और बेस्ट बेकरी का सबक सिखाया। उन्होंने कहा कि गोधरा बाद के दंगों में कांग्रेस के पूर्व सांसद जाफरी सहित कई मुसलमानों की हत्या कर दी गई।

उल्लेखनीय है कि 2002 की गोधरा घटना के बाद बिलकिस बानो सामूहिक बलात्कार मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे सभी 11 दोषी इस साल 15 अगस्त को गोधरा उप जेल से बाहर आ गए। दरअसल, गुजरात सरकार ने सजा में कटौती की अपनी नीति के तहत उनकी रिहाई की अनुमति दी थी।

ओवैसी ने कहा कि किसी को यह नहीं भूलना चाहिए कि सत्ता हमेशा नहीं रहती है। हैदराबाद के सांसद ने कहा, आप सबक सिखाने की बात करते हैं, लेकिन सत्ता में मौजूद लोग भूल गए हैं कि सत्ता में कोई व्यक्ति हमेशा नहीं रहता है। कोई व्यक्ति इसमें हमेशा नहीं रहेगा, किसी न किसी दिन यह छिन जाएगी। सत्ता के नशे में चूर गृहमंत्री सबक सिखाने की बात कर रहे हैं।

उन्होंने सवाल किया, आपने यह सबक सिखाया है कि पूरे देश को कैसे बदनाम किया जाए? अमित शाह, आपने किस तरह का सबक सिखाया था, जिसने दिल्ली में दंगे कराए।(भाषा)
Edited By : Chetan Gour
ये भी पढ़ें
अयोध्या जनपद के सभी 14 रेलवे स्टेशनों का स्वरूप होगा राम मंदिर जैसा