शनिवार, 13 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. नन्ही दुनिया
  3. क्या तुम जानते हो?
  4. World Hearing Day
Written By WD Feature Desk

World Hearing Day क्यों मनाया जाता है? जानें 2024 की थीम और महत्व

ऐसे मनाया जाता है विश्व श्रवण दिवस, इस साल की थीम भी जानें

World Hearing Day
World Hearing Day
World Hearing Day: हमारे जीवन में सुनना एक महत्वपूर्ण भाग है। सुनने के बिना, हम दुनिया को समझ नहीं सकते हैं। लेकिन क्या हमें हमारी सुनने की सुरक्षा का पर्याप्त ध्यान होता है? क्या हम सुनने की सहायता के लिए उपलब्ध संसाधनों का उपयोग करते हैं? ALSO READ: मीठी नहीं तीखी हुआ करती थी चॉकलेट! क्या आपको पता है इसका इतिहास?
 
विश्व श्रवण दिवस (World Hearing Day) हर साल 3 मार्च को मनाया जाता है। इस दिन का मुख्य उद्देश्य हमें सुनने के महत्व को संदेश देना और सुनने की सुरक्षा को बढ़ावा देना है। इस दिन के तहत, विभिन्न संगठन और सरकारी अधिकारियों द्वारा अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जो सुनने के समस्याओं को समझाने और समाधान करने में मदद करते हैं।
 
क्या है विश्व श्रवण दिवस 2024 की थीम? | World Hearing Day 2024 Theme
इस वर्ष, विश्व सुनने दिवस का थीम 'मानसिकता को बदलें: हम सभी के लिए कान और सुनने का देखभाल वास्तविकता बनाएं!' है। इस थीम का मुख्य उद्देश्य हमें सुनने के समर्थन और देखभाल के प्रति अपनी मानसिकता को बदलने के लिए प्रेरित करना है।

अधिकांश लोग सुनने के समस्याओं को गंभीरता से नहीं लेते हैं और इसे अनदेखा कर देते हैं। इसी कारण सुनने की समस्याओं का समाधान और सहायता करने के लिए जरूरी है कि हम अपनी मानसिकता को बदलें और इसे एक प्राथमिकता बनाएं।
World Hearing Day
विश्व श्रवण दिवस कैसे मनाया जाता है? | World Hearing Day 2024 Activities
विश्व सुनने दिवस के दौरान, विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जो सुनने की समस्याओं को समझाने और इसे समाधान करने में मदद करते हैं। इन कार्यक्रमों में डॉक्टर्स, आर्युवेदिक चिकित्सक, एण्ट्रोलॉजिस्ट्स, और अन्य विशेषज्ञ होते हैं जो सुनने की समस्याओं के बारे में जानकारी देते हैं और उपचार के लिए सुझाव देते हैं। साथ ही, इन कार्यक्रमों में सुनने की समस्याओं के लिए उपलब्ध संसाधनों और सहायता के बारे में भी जानकारी दी जाती है।
 
विश्व श्रवण दिवस का महत्व जानें
विश्व सुनने दिवस के महत्व को समझने के लिए, हमें उन लोगों की बातें सुननी चाहिए जिन्होंने सुनने की समस्याओं का सामना किया है। वे हमें अपने अनुभव से सिखाते हैं कि सुनने की समस्याओं को कैसे पहचाना जा सकता है और उनका समाधान कैसे किया जा सकता है। इसके अलावा, हमें भी यह ध्यान में रखना चाहिए कि सुनने की समस्याओं का इलाज समय से किया जाए ताकि यह गंभीर रूप में नहीं बदल जाए।
ये भी पढ़ें
पोलियो राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस, जानिए बच्चों को कौन कौन से टीके लगवाने चाहिए