गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. खेल-संसार
  2. अन्य खेल
  3. फीफा विश्व कप 2022
  4. USA beat Netherlands 3-1 in FIFA World Cup
Written By
पुनः संशोधित रविवार, 4 दिसंबर 2022 (00:48 IST)

FIFA World Cup : अमेरिका ने नीदरलैंड को दी 3-1 से शिकस्त, क्वार्टरफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी

अल रेयान। नीदरलैंड डेंजेल डमफ्राइज के शानदार प्रदर्शन से शनिवार को यहां खलीफा इंटरनेशनल स्टेडियम में फीफा विश्व कप (FIFA World Cup) के राउंड 16 मुकाबले में अमेरिका को 3-1 से शिकस्त देकर क्वार्टरफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी।

नीदरलैंड के लिए मेंफिस डीपे (10वें मिनट), डाले ब्लाइंड (45+1वें मिनट) और डमफ्राइज (81वें) ने गोल किए। डमफ्राइज ने दोनों गोल करने में भी मदद की। ग्रुप ए में दो जीत और एक ड्रा से शीर्ष पर रही नीदरलैंड को इस मुकाबले में प्रबल दावेदार माना जा रहा था और उसने इसके अनुरूप प्रदर्शन किया। अब शुक्रवार को क्वार्टरफाइनल में उसका सामना अर्जेंटीना और ऑस्ट्रेलिया के बीच देर रात होने वाले मुकाबले के विजेता से होगा।

अमेरिका के लिए एकमात्र गोल स्थानापन्न खिलाड़ी हाजी राइट ने 76वें मिनट में दागा। अच्छी टीमों को गोल करने का सिर्फ एक मौका चाहिए होता है और नीदरलैंड के साथ ऐसा ही हुआ। मैच के शुरू में ही मिडफील्ड में अच्छे पास देखने को मिले और ऐसे ही पास पर डमफ्राइज ने बॉक्स के ऊपर मेंफिस डीपे को क्रास दिया और उन्होंने बड़ी खूबसूरती से नेट में बाईं ओर दनदनाता हुआ गोल कर दिया। अमेरिका के गोलकीपर मैट टर्नर के पास इस रोकने का कोई मौका नहीं था।

यह डीपे का 43वां अंतरराष्ट्रीय गोल था जिससे नीदरलैंड की टीम 1-0 से आगे हो गई। हॉफ टाइम से पहले इंजुरी टाइम (45+1वें मिनट) में ब्लाइंड ने टीम के लिए दूसरा गोल दाग दिया। इससे विश्व कप में तीन बार की उप विजेता रही ‘ओरांजे’ ने बढ़त दोगुनी की। डमफ्राइज ने फिर गोल करने में मदद की, उनके क्रास पर ब्लाइंड ने भागते हुए अमेरिका के बॉक्स से गोल कर दिया, जो नेट के कॉर्नर में पहुंचा।

पहले गोल के बाद हालांकि खेल थोड़ा धीमा हो गया जिसमें अमेरिकी टीम का गेंद पर कब्जा अधिक रहा लेकिन टीम कोई अच्छा प्रयास नहीं कर सकी। इससे नीदरलैंड की रक्षा पंक्ति पर कोई दबाव नहीं था। अमेरिका को मैच में वापसी के लिए रणनीति में बदलाव की दरकार थी। उसके लिए 43वें मिनट में नीदरलैंड के गोलकीपर आंद्रियास नोपर्ट की परीक्षा हुई जब टिम विया ने बॉक्स के किनारे से शॉट लगाया जिसका उन्होंने डाइव करते हुए शानदार बचाव किया।

दूसरे हॉफ में अमेरिका ने हमले तेज कर दिए, जिसमें 52वें मिनट में क्रिस्टियन पुलिसिच का शॉट सीधे नीदरलैंड के गोलकीपर के हाथ में चला गया। दो मिनट बाद मैकेनी का शॉट नीदरलैंड के क्रासबार के ऊपर से निकल गया।

पुलिसिच पर फाउल के लिए 60वें मिनट में नीदरलैंड के टेयून कूपमेनर्स को पीला कार्ड दिखाया। अगले ही मिनट में अमेरिकी गोलकीपर मैट टर्नर ने शानदार बचाव करते हुए मेंफिस डीपे को दूसरे गोल करने से वंचित कर दिया।अमेरिका के खिलाड़ी गोल करने के लिए बेताब थे और दबाव में कई शॉट लगा रहे थे।

स्थानापन्न खिलाड़ी हाजी राइट 75वें मिनट में गोल करने का अच्छा मौका चूक गए लेकिन अगले ही मिनट में उन्होंने गोल कर अंतर कम किया। पुलिसिच के क्रास पर राइट ने इसे नेट में पहुंचा दिया। नीदरलैंड ने इसके बाद हमले तेज किए और 2 गोल करने में मदद करने वाले डमफ्राइज ने 81वें मिनट में शानदार मौके का फायदा उठाकर आसानी से गोल कर अपनी टीम को 3-1 से आगे कर दिया।

मेंफिस डीपे ने बाईं ओर अमेरिकी डिफेंडरों की ओर से गेंद ब्लाइंड की ओर बढ़ाई, जिन्होंने डमफ्राइज की ओर क्रास दिया और उन्होंने इसे सीधे नेट में डाल दिया। अमेरिका के लिए यह निराशाजनक परिणाम रहा जो 2002 के बाद पहली बार राउंड 16 से आगे बढ़ने की उम्मीद लगाए थी।
Edited By : Chetan Gour (भाषा)
ये भी पढ़ें
FIFA world cup में लियोनल मेसी का जलवा, 10वीं बार अंतिम 8 में अर्जेंटीना