किसान आंदोलन की आड़ में भड़की हिंसा के लिए कौन हैं जिम्मेदार...

Last Updated: बुधवार, 27 जनवरी 2021 (10:30 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली में 26 जनवरी को ट्रैक्टर मार्च की आड़ में भड़की हिंसा के बाद पुलिस आरोपियों की पहचान में जुट गई है। इस मामले में 22 एफआईआर दर्ज की गई है। आईटीओ, नांगलोई, मुबारका रोड समेत कई स्थानों पर जमकर बवाल हुआ... सवाल उठ रहे हैं कि आंदोलन की आड़ भड़की हिंसा के लिए कौन हैं जिम्मेदार...

सिंघू बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसान नेताओं का आरोप है कि पंजाबी फिल्म अभिनेता दीप सिद्धू और लक्खा सदाना ने युवाओं को उकसाकर दिल्ली में घुसने के लिए प्रेरित किया। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने इसे पूर्व नियोजित हंगामा करार दिया है। उन्होंने कहा कि दीप सिद्धू सिख नहीं, भाजपा कार्यकर्ता है। उसका पीएम मोदी के साथ फोटो भी है। इतना ही नहीं, टिकैत ने कहा कि किसानों के ट्रैक्टरों का जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई पुलिस-प्रशासन करेगा।
हालांकि दीप सिद्धू ने इन आरोपों से इनकार किया है। ट्रैक्टर परेड के दौरान लालकिले पर प्रदर्शनकारियों द्वारा धार्मिक झंडा फहराये जाने की घटना के दौरान मौजूद रहे अभिनेता दीप सिद्धू ने मंगलवार को प्रदर्शनकारियों के कृत्य का यह कह कर बचाव किया कि उन लोगों ने राष्ट्रीय ध्वज नहीं हटाया और केवल एक प्रतीकात्मक विरोध के तौर पर ‘निशान साहिब’ को लगाया था। उन्होंने कहा कि लालकिले पर ध्वज-स्तंभ से राष्ट्रीय ध्वज नहीं हटाया गया और किसी ने भी देश की एकता और अखंडता पर सवाल नहीं उठाया।
दिल्ली की सड़कों पर हुए हंगामे के बाद किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो वायरल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें वे किसानों से कहते दिखाई दे रहे हैं कि सरकार मान नहीं रही है और अब सब आ जाओ अपनी जमीन नहीं बच रही। इस वीडियो में टिकैत किसानों से लाठी-डंडा साथ रखने की बात कर रहे हैं। हालांकि वेबदुनिया इस वीडियो की सत्यता की पुष्‍टि नहीं करता हैै।



और भी पढ़ें :