ट्रैक्टर परेड : दिल्ली पुलिस को जनता से मिले 1,700 वीडियो क्लिप और CCTV फुटेज, होगी फॉरेंसिक जांच

पुनः संशोधित शनिवार, 30 जनवरी 2021 (21:16 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। को गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा से संबंधित अब तक 1,700 और सीसीटीवी फुटेज जनता से मिली हैं तथा इस सामग्री का विश्लेषण करने और दोषियों की पहचान करने के लिए फॉरेंसिक विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है। संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) बीके सिंह ने शनिवार को यह जानकारी दी।
ALSO READ:

पीएम मोदी का बड़ा बयान, किसानों से बातचीत के लिए तैयार, सिर्फ एक फोन दूरी पर हैं कृषिमंत्री तोमर
उन्होंने कहा कि लालकिले और आईटीओ पर हुई हिंसा से जुड़े 9 मामलों की जांच कर रही अपराध शाखा मोबाइल फोन कॉल के ‘डंप डेटा’ और ट्रैक्टरों की पंजीकरण संख्या की भी जांच कर रही है।
सिंह ने कहा कि नेशनल फॉरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी की एक टीम को हिंसा से संबंधित वीडियो क्लिप और सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण करने के लिए बुलाया गया है। हिंसा में 394 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे और 1 प्रदर्शनकारी की मौत भी हो गई थी।
दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को प्रमुख समाचार-पत्रों में एक अपील जारी की थी जिसमें लोगों से हिंसा के बारे में कोई सबूत या जानकारी साझा करने के लिए कहा गया था।
सिंह ने कहा कि हमारी अपील के बाद दिल्ली पुलिस को गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा से संबंधित 1,700 वीडियो क्लिप और सीसीटीवी फुटेज जनता से मिली हैं। वीडियो के माध्यम से, हम हिंसा में लिप्त रहे व्यक्तियों की पहचान करेंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :