केंद्र सरकार ने भारत बायोटेक के हैदराबाद परिसर की सुरक्षा का जिम्मा CISF को सौंपा

Last Updated: मंगलवार, 8 जून 2021 (23:20 IST)
नई दिल्ली। केंद्र ने देश के प्रमुख कोविड-19 टीका निर्माताओं में से एक के की सुरक्षा का जिम्मा सीआईएसएफ कमांडो को सौंपा है। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद के शमीरपेट क्षेत्र में जीनोम वैली स्थित कंपनी के पंजीकृत कार्यालय और संयंत्र की सुरक्षा अर्द्धसैनिक बल सीआईएसएफ के 64 सशस्त्र कर्मियों की एक टीम द्वारा किया जाएगा।
सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने हाल ही में इस परिसर की सुरक्षा के लिए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) को तैनात करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। इसके बाद बल ने सर्वेक्षण किया।

एक अधिकारी ने कहा कि जब देश की चिकित्सा और स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित करने की बात आती है तो यह एक महत्वपूर्ण संगठन है और इसे स्पष्ट रूप से विभिन्न विरोधी तत्वों से आतंकवादी खतरा है।


उन्होंने कहा कि इसलिए सीआईएसएफ को भारत बायोटेक की हैदराबाद इकाई की सुरक्षा का काम सौंपा गया है।

सीआईएसएफ के उपमहानिरीक्षक और मुख्य प्रवक्ता अनिल पांडेय ने बताया कि बल को 14 जून को वहां की सुरक्षा के लिए तैनात किया जाएगा।

भारत बायोटेक कोविड-19 रोधी कोवैक्सीन टीके तैयार करती है।

वर्ष 2008 के मुंबई आतंकवादी हमले के बाद सीआईएसएफ को सार्वजनिक महत्व के निजी प्रतिष्ठानों को सुरक्षा मुहैया कराने की अनुमति दी गई थी।

सीआईएसएफ पुणे और मैसूर में इंफोसिस के परिसरों के अलावा नवी मुंबई में रिलायंस आईटी पार्क और उत्तराखंड के हरिद्वार में योग गुरु रामदेव के पतंजलि परिसर सहित देशभर में लगभग 10 ऐसी इकाइयों की सुरक्षा करता है। (भाषा)



और भी पढ़ें :