कोरोनाकाल में सरकारी मदद का रियलिटी चेक,हेल्पलाइन नंबर पर बेड से लेकर एंबुलेंस तक की दी जा रही जानकारी

कोविड कमांड सेंटर से होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड मरीजों को मिल रही मदद

Author विकास सिंह|
भोपाल। कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहे मध्यप्रदेश में लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाने के लिए सरकार ने मोर्चा संभाल लिया है। संकट के समय लोगों की मदद के लिए सरकार ने जारी किए है। स्टेट पोर्टल फॉर कोविड-19 मॉनिटरिंग पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इलाज के लिए अस्पतालों में बेड की उपलब्धता की जानकारी देने के साथ होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए हेल्पलाइन नंबर 104 दिया गया है। इसके साथ स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने महामारी के वक्त मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर 1075 और 011-23978046 भी जारी किया है।
इन हेल्पलाइन नंबरों से लोगों को कितनी मदद मिल रही है इसका करने के लिए ‘वेबदुनिया’ ने खुद इन नंबरों पर कॉल किया। हेल्पलाइन नंबर 104 पर कॉल करने पर पहले दो प्रयास में नंबर बिजी बताने के बाद कॉल लगने पर हेल्पलाइन प्रतिनिधि से राजधानी भोपाल में कोरोना पॉजिटिव मरीज के लिए बेड के बारे में पूछा तो हेल्पलाइन प्रतिनिधि ने पूरी जानकारी लेने के बाद राजधानी के गांधी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन सपोर्ट बेड उपलब्ध होने की जानकारी दी। वहीं हॉस्पिटल में भर्ती कराने के लिए एंबुलेंस सेवा होने की जानकारी देने के साथ संबंधित डॉक्टर से बात कराने को कहा। ऐसे में ‘वेबदुनिया’ के रियलिटी चेक में हेल्पलाइन नंबर 104 सेवा पूरी मुस्तैदी से काम करती नजर आई।

वहीं इसके बाद ‘वेबदुनिया’ ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी हेल्पलाइन नंबर 1075 और 011-23978046 का भी रियलिटी चेक किया। हेल्पलाइन नंबर 1075 पर कॉल करने पर हेल्पलाइन प्रतिनिधि ने कॉल रिसीव करने के साथ मदद के बारे में पूछा।

‘वेबदुनिया’ प्रतिनिधि ने हेल्पलाइन नंबर पर मिल रही सुविधाओं के बारे में पूछा तो प्रतिनिधि ने दी जा रही सेवाओं के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि अस्पतालों में बेड की उपलब्धता की जानकारी देने के साथ कोरोना पीड़ित के इलाज में आ रही किसी भी परेशानी को दूर करने में पूरी सहायता हेल्पलाइन पर आपको मिलेगी। यहां पर भी ‘वेबदुनिया’ के रियलिटी चेक में हेल्पलाइन नंबर 1075 की सुविधा सहीं मिली।

इसके बाद ‘वेबदुनिया’ ने कोरोना को लेकर जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर 01123978046 पर कॉल लगाकर उसका रियलिटी चेक किया। यहां पर हेल्पलाइन प्रतिनिधि ने नाम के साथ राज्य और जिले की जानकारी के साथ पिनकोड की जानकारी लेकर कोरोना के इलाज के लिए अधिग्रहित किए गए हॉस्पिटल के बारे में पूरी जानकारी दी।
इसके साथ राजधानी में बनाए राज्यस्तरीय कोविड कमांड सेटर से होमआइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पॉजिटिव मरीजों की वीडियो कॉफेंसिंग के जरिए मदद की जा रही है।




और भी पढ़ें :