स्टडी में खुलासा, कोरोना के नए प्रकार पर भी प्रभावी है Pfizer का टीका

Last Updated: मंगलवार, 9 फ़रवरी 2021 (13:27 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। अमेरिकी फार्मा कंपनी फाइजर और जर्मन जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोएनटेक द्वारा संयुक्त रूप से निर्मित कोविड-19 टीका कोरोनावायरस के उस नए प्रकार से सुरक्षा दे सकता है, जो पहले ब्रिटेन और फिर दक्षिण अफ्रीका में पाया गया।

एक नए अध्ययन में यह जानकारी सामने आई है।
ALSO READ:

COVID-19 : भारत बना सबसे तेज गति से लगाने वाला देश, 40 लाख से ज्‍यादा लोगों का हुआ टीकाकरण
'नेचर मेडिसिन' नामक शोध पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार कोरोनावायरस के 'एन501वाई' और 'ई484के' म्यूटेशन पर उक्त टीका प्रभावी है। अमेरिका के टेक्सास विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों समेत विशेषज्ञों के दल के अनुसार टीके का वायरस के ई484के म्युटेशन पर पड़ने वाला प्रभाव एन501वाई म्युटेशन पर पड़ने वाले प्रभाव से थोड़ा कम है।

अनुसंधान पर टिप्पणी करते हुए ब्रिटेन के वारविक विश्वविद्यालय के वायरस विशेषज्ञ लॉरेंस यंग ने कहा कि इन नतीजों से पहले किए गए अध्ययन की पुष्टि होती है जिसमें फाइजर के टीके को ब्रिटेन में पाए गए प्रकार के प्रति प्रभावी बताया गया था। ब्रिटेन के नॉटिंघम विश्वविद्यालय में मॉलिक्यूलर वायरोलॉजी के प्रोफेसर जोनाथन बॉल ने भी कहा कि अध्ययन से प्राप्त नतीजे सही हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :