इमरजेंसी में हो सकेगा कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड का इस्तेमाल? 2 सप्ताह में लाइसेंस के लिए आवेदन करेगा सीरम इंस्टिट्यूट

Last Updated: शनिवार, 28 नवंबर 2020 (23:48 IST)
नई दिल्ली। वैक्सीन बनाने वाली प्रमुख कंपनी ऑफ इंडिया ने शनिवार को कहा कि वह भारत में एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड की कोविड-19 वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग के लाइसेंस के लिए अगले 2 सप्ताह में आवेदन करने की प्रक्रिया में है।
ALSO READ:
PM नरेंद्र मोदी ने पुणे, हैदराबाद, अहमदाबाद में Corona Vaccine की समीक्षा की
सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अदार पूनावाला ने कहा, ‘पीएम से हमने योजना पर चर्चा की, योजना के कार्यान्वयन के बारे में जो आपातकालीन उपयोग लाइसेंस हासिल करने के बाद ही लागू होगी, जो हमारे द्वारा दिए जाने वाले आंकड़ों के आधार पर जारी किया जाएगा।‘
यह पूछने पर कि क्या कंपनी ने आपातकालीन लाइसेंस के लिए आवेदन किया है, पूनावाला ने कहा, ‘हम आपातकालीन उपयोग के लाइसेंस के लिए अगले दो सप्ताह में आवेदन करने की प्रक्रिया में है।‘

पूनावाला ने कहा कि कंपनी लिए यह एक खास दिन था, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कंपनी के पुणे स्थित संयंत्र का दौरा किया।

मोदी ने कोरोना वायरस के टीके के विकास कार्य की समीक्षा के लिए शनिवार को अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क, हैदराबाद में भारत बायोटेक और पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा किया।
एक आधिकारिक बयान में कहा गया, ‘‘वैज्ञानिकों ने खुशी जताई कि प्रधानमंत्री ने उनके साथ मुलाकात कर उनके साहस को बढ़ाया और टीका विकास के इस महत्वपूर्ण चरण में उनके प्रयासों में तेजी लाने के लिए उत्साहवर्धन किया।’’

एसआईआई का दौरा करने के बाद मोदी ने ट्वीट किया, ‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में टीम के साथ अच्छी वार्ता हुई। उन्होंने अभी तक हुई प्रगति के बारे में जानकारी को साझा किया कि किस तरह से वे आगे टीका निर्माण को तेज करने की योजना बना रहे हैं। उनके निर्माण संयंत्र को भी देखा।‘



और भी पढ़ें :