मप्र : गांव में लगे शिविर पर भड़के 2 भाइयों ने टीकाकरण कर्मियों को धमकाकर भगाया

Last Updated: बुधवार, 14 अप्रैल 2021 (21:28 IST)
इंदौर। के जिले के ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को कोरोनावायरस (Coronavirus) का टीका लगाए जाने पर आगबबूला होते हुए 2 सगे भाइयों ने टीकाकरण कर्मियों से बदसलूकी की और उन्हें धमकाकर भगा दिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। मानपुर पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी।
उन्होंने बताया कि इंदौर शहर से करीब 45 किलोमीटर दूर सागलाखाली गांव में पात्र हितग्राहियों को मंगलवार को कोविड-19 का टीका लगाया जा रहा था। इस दौरान अमित चैन सिंह और अजय चैन सिंह नाम के दो सगे भाई में आ धमके और टीके के खिलाफ दुष्प्रचार शुरू कर दिया। पुलिस अधिकारी ने प्राथमिकी के हवाले से बताया कि दोनों भाई ग्रामीणों को महामारी के टीके के खिलाफ भड़का रहे थे।

उन्होंने बताया, जब टीकाकरण कर्मियों ने दोनों भाइयों से कहा कि वे टीके को लेकर दुष्प्रचार बंद करें, तो उन्होंने इन कर्मियों के साथ न केवल गाली-गलौज की, बल्कि उन पर लाठी और पत्थर से हमला करने की कोशिश भी की। इस पर टीकाकरण कर्मी शिविर से भागने पर मजबूर हो गए।पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों भाइयों ने टीकाकरण कर्मियों को धमकी भी दी कि यदि वे कभी गांव में दिखाई देने पर उन्हें जान से हाथ धोना पड़ेगा।

उन्होंने बताया कि दोनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 353 (लोक सेवकों को भयभीत कर उन्हें उनके कर्तव्य के निर्वहन से रोकने के लिए उन पर हमला) के तहत मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है।

गौरतलब है कि इंदौर, राज्य में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है, जहां इन दिनों महामारी की दूसरी लहर का घातक प्रकोप नजर आ रहा है।(भाषा)



और भी पढ़ें :