दिल्ली में ITBP के 45 जवान कोरोना से संक्रमित

पुनः संशोधित मंगलवार, 5 मई 2020 (16:30 IST)
नई दिल्ली। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के 45 कर्मियों में कोरोना की पुष्टि हुई है जिनमें से 2 को सफदरजंग अस्पताल, 41 को ग्रेटर नोएडा में और 2 को एम्स झज्जर में भर्ती कराया गया है।
आईटीबीपी के अनुसार अब तक उसके 45 कर्मियों में के संक्रमण की पुष्टि हुई है जिनमें से
43 कर्मी आईटीबीपी के टिगरी कैंप में कार्यरत हैं जो राजधानी में आतंरिक सुरक्षा कार्यों में लगी हुई है।
दो कर्मियों
को सफदरजंग अस्पताल में तथा 41 आईटीबीपी कर्मी सीएपीएफ रेफरल अस्पताल, ग्रेटर नोएडा में भर्ती हैं।

कांटेक्ट ट्रेसिंग के बाद इस यूनिट के 76 जवानों को आईटीबीपी के छावला क्वारंटाइन केंद्र में अलग रखा गया है।
इसके अलावा रोहिणी में दिल्ली पुलिस के साथ कानून व्यवस्था में तैनात एक आईटीबीपी कंपनी के 2 जवानों
का पहले कोरोना का टेस्ट पॉजिटिव आया था। इन्हें एम्स, झज्जर में भर्ती करवाया गया है। इस कंपनी के बाकी 91 जवानों को भी आईटीबीपी छावला में क्वारंटाइन में रखा गया है और इनके सेंपल लिए जा चुके हैं।

रिपोर्ट का इंतज़ार है। इस बीच आईटीबीपी ने सीएपीफ रेफरल अस्पताल, ग्रेटर नोएडा में कोरोना संक्रमित जवानों का उपचार प्रारंभ कर दिया है। 200 बिस्तरों वाला यह अस्पताल अब कोविड 19 के संक्रमित जवानों के इलाज के लिए है। अभी इसमें आईटीबीपी और बीएसएफ के कुल 52 जवान भर्ती हैं।

इनका तय मेडिकल प्रोटोकॉल के अनुसार इलाज़ किया जा रहा है और देख-रेख की जा रही है। केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के विशेषज्ञ डाक्टर इनका इलाज़ कर रहे हैं। अस्पताल में सभी आवश्यक उपकरण और संसाधन उपलब्ध हैं। साथ ही कांटेक्ट ट्रेसिंग तेज कर दी गई है और संपर्क में आए लोगों के सेंपल की जांच भी जारी है। (वार्ता)



और भी पढ़ें :