मौनी रॉय के पिता चाहते थे उनकी बेटी बने भारतीय सिविल सेवा का हिस्सा

Last Updated: गुरुवार, 17 सितम्बर 2020 (16:14 IST)
भारत में सबसे बड़े मूल कंटेंट निर्माता ज़ी5 द्वारा बैक टू बैक अनूठे ओरिजिनल फिल्मों और सीरीज़ के साथ दर्शकों का खूब किया जा रहा है। और हाल ही में, वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म द्वारा 'लंदन कॉन्फिडेंशियल' की घोषणा की गई है जो अपनी तरह की एक अनोखी सिचुएशनल स्पाई-थ्रिलर फ्रैंचाइज़ी है और यह हालिया महामारी के बाद के समय में स्थापित है।
यह फिल्म अब अपनी रिलीज़ से महज चंद दिनों की दूरी पर है, ऐसे में शो की मुख्य अदाकारा ने एक दिलचस्प बात साझा की है। उन्होंने कहा, मैं शुरुआत से ही मन ही मन एक्टर बनने की चाह रखा करती थी।
मौन रॉय ने कहा, अगर मैं एक्टर नहीं होती तो मैं निश्चित रूप से एक आईएएस अधिकारी बनती क्योंकि मेरे पिता चाहते थे कि मैं भारतीय सिविल सेवा का हिस्सा बनूं।

इस फिल्म में मौनी रॉय, पूरब खोली और कुलराज रंधावा अंडरकवर एजेंट की भूमिका में दिखाई देंगे। कहानी, संक्रमण फैलाने की साजिश के पीछे स्रोत खोजने के चारों ओर घूमती है, जिसे विस्फोट के लिए एक टाइम बम की तरह तैयार किया जाता है।

एस हुसैन जैदी द्वारा रचित फिल्म में मौनी रॉय और पूरब कोहली ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इनके अतिरिक्त, कुलराज रंधावा, सागर आर्य, परवेश राणा, जस बिनाग, दिलजोन सिंह और किरेन जोगी सहायक भूमिकाओं में होंगे। फिल्म अजय जी राय और मोहित छाबड़ा द्वारा निर्मित और कंवल सेठी द्वारा निर्देशित है।



और भी पढ़ें :