दर्शकों को हंसाना आसान नहीं है, लेकिन यह नामुमकिन भी नहीं है : विष्णु भोलवानी

पुनः संशोधित शनिवार, 13 मार्च 2021 (10:22 IST)
हमें फॉलो करें
लेडीज स्पेशल और सास बिना ससुराल जैसे शो में अपने शानदार रोल के लिए पहचाने जाने वाले एक्टर विष्णु भोलवानी अब टेलीविजन पर हाल ही में शुरू हुए सिटकॉम 'सरगम की साढ़े साती' में आशा अमर अवस्थी का रोल निभा रहे हैं। वो अपारशक्ति अवस्थी यानी कुणाल सलूजा के बड़े भाई का रोल निभा रहे हैं, जो बड़े तुनकमिजाज हैं और सबसे बराबरी करते हैं।

वो हमेशा अपने पिता से मुकाबला करने की कोशिश करते हैं। वो अपने पिता के साथ साड़ी की दुकान पर काम करते हैं और अक्सर महिला ग्राहकों से लड़ पड़ते हैं। उनके गुस्से की वजह भी होती हैं। वो हमेशा शांत रहने की कोशिश करते हैं, लेकिन फिर भी खुद से जूझते रहते हैं।

कॉमेडी करना अक्सर मुश्किल माना जाता है क्योंकि इसका एकमात्र उद्देश्य लोगों को हंसाना होता है। कुछ लोग कॉमेडी करना सीखते हैं और कुछ लोगों में यह गुण स्वाभाविक रूप से होता है। इसी तरह एक्टर विष्णु भोलवानी को भी शुरुआत में कॉमेडी करना मुश्किल लगा, लेकिन यह उनके लिए नामुमकिन भी नहीं था, क्योंकि उन्होंने सरगम की साढ़े साती की टीम के साथ इसकी प्रैक्टिस की और इसे सीखा।
कॉमेडी सीखने को लेकर विष्णु भोलवानी ने कहा, यह पहली बार है, जब मैं एक सिटकॉम में काम कर रहा हूं। इससे पहले मैंने जितने भी शोज़ किए, वो सब सीरियस ड्रामा थे, जिसमें कॉमेडी का कोई स्कोप नहीं था। जब हमने इसके लिए वर्कशॉप और ट्रेनिंग सत्र शुरू किया, तो मुझे शुरुआत में लोगों को हंसाना बहुत मुश्किल लगा।

मुझे लगा कि जब मैं सीन्स की शूटिंग करूंगा, तो इसे कैसे कर पाऊंगा। लेकिन मुझे यह नामुमकिन भी नहीं लगा, क्योंकि 'सरगम की साढ़े साती' की मेरी शानदार टीम और हमारे डायरेक्टर केदार शिंदे सर ने हर कदम पर मेरा मार्गदर्शन किया, चाहे वो एक्सप्रेशन्स हों या डायलॉग डिलीवरी! यहां तक कि मुझमें हमारे प्रोड्यूसर विपुल शाह का विश्वास भी कम नहीं हुआ।
उन्होंने आगे बताया, हम सभी ने एक परिवार की तरह मिलकर इसे संभव बनाया। यह एक टीमवर्क है और सभी ने मिलकर इस कॉमेडी को धीरे-धीरे आगे बढ़ाया। ऐसे में सभी के सामूहिक प्रयास से मैंने जाना कि कॉमेडी करना नामुमकिन नहीं है।




और भी पढ़ें :