0

जगदीप की एक्टिंग से खुश हो पंडित नेहरू ने दी थी घड़ी

गुरुवार,जुलाई 9, 2020
0
1
संजीव कुमार उम्रदराज व्यक्ति की भूमिका निभाने में माहिर समझे जाते थे। 22 वर्ष की उम्र में ही उन्होंने एक नाटक में बूढ़े का रोल अदा किया था। कई फिल्मों में उन्होंने अपनी उम्र से अधिक उम्र वाले व्यक्ति के किरदार निभाए और काफी पसंद किए गए।
1
2
क्या आप जानते हैं कि रणवीर सिंह रिश्ते में सोनम कपूर के भाई हैं। कि वे सोलह वर्ष की उम्र तक मोटे थे? पेश है रणवीर के बारे में 30 रोचक बातें।
2
3
ऐसा ही एक किस्सा फिल्म 'दीवाना' से जुड़ा है। यह फिल्म 1992 में रिलीज हुई थी। निर्देशक थे राजकंवर। गुड्डू धनोआ और ललित कपूर ने इसे प्रोड्यूस किया था। फिल्म में ऋषि कपूर, दिव्या भारती और शाहरुख खान ने लीड भूमिका निभाई थी। यह फिल्म इसलिए भी याद की ...
3
4
1) 27 जून 1939 को कोलकाता में जन्मे राहुल देव बर्मन के पिता सचिन देव बर्मन की गिनती बॉलीवुड के महान संगीतकारों में होती है। राहुल ने अपने पिता की परम्परा को आगे बढ़ाया।
4
4
5
25 जून 1974 को जन्मी करिश्मा कपूर उस कपूर खानदान से है जिसे हिंदी फिल्मों का प्रथम परिवार कहा जाता है। करिश्मा का निकनेम 'लोलो' है। करिश्मा की नानी का नाम गिना लोलोब्रिगाडा था और यही से 'लोलो' नाम करिश्मा की मां बबीता ने लिया।
5
6
बॉलीवुड में पिता और उसकी संतान के रिश्ते पर कई शानदार फिल्में बनी हैं। इस रिश्ते के तनाव, दोस्ताना व्यवहार और खूबसूरती को फिल्मों में बेहतरीन तरीके से उकेरा गया है। पेश है चुनिंदा 8 फिल्में, जिनमें यह रिश्ता इस तरह से पेश किया गया कि दर्शकों को आज ...
6
7
पटना के सुशांत सिंह राजपूत का जीवन मात्र 34 वर्ष का रहा। उनके जीवन पर नजर दौड़ाई जाए तो उन्हें ढेर सारी सफलताएं मिलीं। पढ़ाई के क्षेत्र में झंडे गाड़ दिए। लोगों से एक इंजीनियरिंग एंट्रेंस एक्ज़ाम क्लियर नहीं होती, सुशांत ने सात-सात एक्ज़ाम पार कर ...
7
8
मेरठ के विख्यात वकील मोतीलाल अग्रवाल के घर 14 जून 1920 को जन्मे भारत भूषण का स्वभाव बचपन से ही विद्रोही था। इसी विद्रोही स्वभाव के कारण उनकी पटरी अपने आर्यसमाजी पिता के साथ नहीं बैठी। वे घर छोड़कर नानी के पास अलीगढ़ आ गए। किताबी पढ़ाई के साथ वे ...
8
8
9
मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी और इंसाफ जैसी फिल्में साथ करते हुए शिल्पा शेट्टी और अक्षय कुमार की दोस्ती नजदीकियां में बदल गईं और दोनों एक-दूसरे को बहुत पसंद करने लगे। जल्दी ही दोनों का रोमांस सुर्खियों में था। वैसे भी अक्षय दिल को हथेली पर लेकर घूमते ...
9
10
डिम्पल कपाड़िया के पिता चुन्नीभाई कपाड़िया बेहद अमीर व्यक्ति थे। वे अपने घर 'समुद्र महल' में अक्सर फिल्म सितारों को पार्टियां देते थे। कहा जाता है कि ऐसी ही एक पार्टी में फिल्मकार राज कपूर ने 13 वर्षीय डिम्पल को देखा और डिम्पल उनके जेहन में बस गई।
10
11
श्यामा में शोखी और चुलबुलापन भले ही न रहा हो जितना कि मधुबाला या गीताबाली में नजर आता था। संजीदगी भी हालांकि कम ही थी जिसे नरगिस या मीना कुमारी ही अदा कर सकती थी, पर श्यामा, श्यामा थीं और यदि यह कहा जाए कि उन्होंने अपनी अदाकारी को बहुआयामी बना डाला ...
11
12
बासु चटर्जी को कला फिल्मों का निर्देशक कहा जाता था, तो उन्हें ऐतराज होता था। यदि उन्हें कमर्शियल सिनेमा का डायरेक्टर कहा जाए, तो भी उन्हें आपत्ति होती थी। दरअसल वे साठ-सत्तर के दशक के मध्यमार्गी सिनेमा के हमसफर रहे हैं। उन्होंने ऋषिकेश मुखर्जी, ...
12
13

नूतन : लंबी और सशक्त पारी

गुरुवार,जून 4, 2020
नूतन की सबसे बड़ी खूबी यह रही कि उन्हें कैसा भी रोल दे दिया जाए, अपने अभिनय से उसे असाधारण बनाने की क्षमता उनमें थीं। हल्के-फुल्के, चुलबुले अथवा धीर-गंभीर भूमिकाओं में नूतन ने साबित किया है कि बिना ग्लैमर के भी नंबर वन नायिका बना जा सकता है। सीमा, ...
13
14
भारतीय सिनेमा के स्वर्णयुगीन फिल्मकार राजकपूर को गुजरे हुए कई साल हो गए, लेनिक वे कभी अप्रासंगिक नहीं होंगे, क्योंकि उनका व्यक्तित्व और कृतित्व सार्वकालिक महत्व का है। राज कपूर की विरासत का लेखा-जोखा बहुत विस्तृत है। उनकी सबसे बड़ी विशेषता उनके सोच ...
14
15
कश्मीरा फिल्मों में हर तरह के रोल किया करती थीं। उन्हें रोल की लंबाई से कोई मतलब नहीं था। इसी समय उन्हें एक फिल्म ऑफर हुई जिसमें उनके साथ कृष्णा अभिषेक थे। कृष्णा के बारे में कश्मीरा बिलकुल नहीं जानती थीं। उन्हें बताया गया कि ये फिल्म स्टार गोविंदा ...
15
16
जया बच्चन ने फिल्म 'जंजीर' में महत्वहीन रोल इसीलिए स्वीकारा था ताकि अमिताभ की इस फिल्म को बड़ा सितारा मिल जाए। जंजीर के पहले रिलीज अमिताभ की अधिकांश फिल्में फ्लॉप रही थीं और जया उनसे बड़ा सितारा थीं। जया की यह मदद दर्शाती है कि वे अमिताभ को ...
16
17
नरगिस अभिनेत्री के बजाय डॉक्टर बनना चाहती थीं, लेकिन सुनहरे संसार के रूपहले परदे पर जब वह आ गई, तो उसने अभिनय के व्यवसाय को प्रतिष्ठा दिलाई। 1957 में 'मदर इंडिया' के समय जब वह अपने जीवन की सफलता के शीर्ष पर थीं, उसने सफेद साड़ी बदलकर दुल्हन की लाल ...
17
18
अक्षय कुमार को खिलाड़ी कुमार भी कहा जाता है क्योंकि एक दौर में उनकी 'खिलाड़ी' सीरिज की फिल्में बेहद सफल रही थी। यह खिलंदड़ किस्म का इंसान इश्क के मैदान का भी खिलाड़ी रहा है और हसीनाओं के दिल चुराया करता था।
18
19
बॉलीवुड में फिल्मकार ऐसा फॉर्मूला ढूंढते रहते हैं जिससे उनकी फिल्म सफलता के नए कीर्तिमान बनाए। ऐसा एक फॉर्मूला हाथ लग ही गया है। यदि सलमान खान की फिल्म ईद पर रिलीज की जाए तो फिल्म का सफल होना निश्चित होता है। पिछले कुछ वर्षों से ये फॉर्मूला धूम से ...
19