0

योगिता बाली : किशोर कुमार की तीसरी और मिथुन चक्रवर्ती की दूसरी पत्नी

शनिवार,मई 15, 2021
0
1
अमिताभ बच्चन अभिनीत 'डॉन' उनकी बेहतरीन फिल्मों में गिनी जाती है। इस फिल्म के सभी गाने आज भी सुने जाते हैं। अमिताभ ने इस फिल्म में डबल रोल निभाया था और बॉक्स ऑफिस पर यह फिल्म बेहद कामयाब रही थी। 12 मई को इस फिल्म को रिलीज हुए 43 वर्ष हो गए। इस ...
1
2
सदाशिव अमरापुरकर को ज्यादातर हिंदी फिल्मों में खलनायकी करते देखा गया है। विलेन के रोल को निभाने के लिए उनके पास न हष्ट-पुष्ट शरीर था और न ही दमदार आवाज, बावजूद इसके उन्होंने विश्वसनीयता के साथ खलनायकी के रंग दिखाए। पतली आवाज को संवाद अदायगी के जरिये ...
2
3
ओजस्वी और गंभीर आवाज के धनी पंकज कुमार मलिक एक ऐसे इंसान थे जिन्होंने धन और यश दोनों का डटकर मुकाबला किया। वे नि:संदेह एक उच्च कोटि के गायक थे और संगीत की बारीकियों का उन्हें समुचित ज्ञान था। ऐसे गीत जो स्वयं गा सकते थे वे भी उन्होंने सहगल से गवाए। ...
3
4
बॉलीवुड के लंबे इतिहास पर नजर दौड़ाएंगे तो कई ऐसी फिल्में मिल जाएंगी जिनमें मां को बेहद सशक्त तरीके से पेश किया गया है। यहां तक कि कई बार वो हीरो पर भी भारी पड़ती नजर आती है। यूं तो कई यादगार किरदार और परफॉर्मेंस मिल जाएंगे। यहां चर्चा करते हैं उन ...
4
4
5
ऐसा ही एक किस्सा फिल्म 'दीवाना' से जुड़ा है। यह फिल्म 1992 में रिलीज हुई थी। निर्देशक थे राजकंवर। गुड्डू धनोआ और ललित कपूर ने इसे प्रोड्यूस किया था। फिल्म में ऋषि कपूर, दिव्या भारती और शाहरुख खान ने लीड भूमिका निभाई थी। यह फिल्म इसलिए भी याद की ...
5
6
सत्यजीत रे आज हमारे बीच होते तो 2 मई 2021 को उम्र के सौ बरस पूरे कर लेते। सिनेमा अगर जीवन की विस्तारित छवि है, तो कभी-कभी फिल्मकार इस विस्तार से भी पार खड़ा नजर आता है। विश्व सिने इतिहासमें ऐसा कम ही हुआ है, जब किसी सिने शिल्पी का कद रजतपट को एक ...
6
7
असमय ही इरफान खान इस दुनिया से चले गए, लेकिन अपने पीछे छोड़ वे फिल्मों का ऐसा खज़ाना छोड़ गए जिसकी वजह से वे लंबे समय तक याद किए जाएंगे। फिल्म अच्छी या बुरी हो सकती है, लेकिन इरफान की एक्टिंग हमेशा अच्‍छी रही। उन्होंने हर फिल्म में दिल लगाकर काम ...
7
8
ऊंचा कद। इकहरा बदन। बड़ी-बड़ी आंखें। आंखों के नीचे भारी बैग। घुंघराले बाल। एक अजीब सी संवाद अदायगी। संवादों को कई से भी तोड़-मोड़ कर बोलना। बोलते-बोलते रूक जाना। फुसफुसा देना। अभिनय में आवाज का बखूबी इस्तेमाल। चेहरे पर बड़े ही संयत भरे भाव। ये इरफान ...
8
8
9
बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन भी हनुमान भक्त हैं। प्रयाग के कोतवाल कहे जाने वाले तथा संगम तट पर लेटे श्रीराम भक्त हनुमान मंदिर में वे हर साल अरदास लगवाते हैं। बताया जाता है कि यहां के हनुमानजी में बिग बी की गहरी आस्था है। हर साल उनका प्रतिनिधि ...
9
10
बॉलीवुड में पूनम ढिल्लो ने अपनी दिलकश अदाओं से वर्षों तक दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया लेकिन कम ही लोगों को पता है कि वे डॉक्टर बनना चाहती थीं।
10
11
पटना के सुशांत सिंह राजपूत का जीवन मात्र 34 वर्ष का रहा। उनके जीवन पर नजर दौड़ाई जाए तो उन्हें ढेर सारी सफलताएं मिलीं। पढ़ाई के क्षेत्र में झंडे गाड़ दिए। लोगों से एक इंजीनियरिंग एंट्रेंस एक्ज़ाम क्लियर नहीं होती, सुशांत ने सात-सात एक्ज़ाम पार कर ...
11
12
अबोध फिल्म से माधुरी दीक्षित ने बॉलीवुड में कदम रखा था। फिल्म बुरी तरह फ्लॉप रही थी। माधुरी की जगह कोई और हीरोइन होती तो यह उसकी पहली और आखिरी फिल्म साबित होती, लेकिन माधुरी का अभिनय पसंद किया गया और उन्हें कुछ फिल्में मिल गईं। स्वाति, आवारा बाप ...
12
13
बहुत कम लोग दुनिया में सबसे मुश्किल काम पूरा करते पाते हैं और वह है इंसान बनना। भारतीय सिनेमा के इतिहास में बलराज साहनी एक ऐसा ही नाम है। फिल्म उद्योग जैसे चकाचौंध वाले व्यवसाय में रहकर भी वे ग्लैमर से कोसों दूर रहे। उन जैसा सरलमना, उदार और सर से ...
13
14
अमिताभ बच्चन ने अनेक यादगार फिल्मों में काम किया है। उसमें से दस चुन पाना बेहद मुश्किल कार्य है। फिर भी कोशिश की है। आइए नजर डाले उनकी दस श्रेष्ठ फिल्मों पर...
14
15
अमिताभ बच्चन के बेहतरीन अभिनय से सजी कई फिल्में हैं। लेकिन 'दीवार' को उनका सर्वश्रेष्ठ काम माना जा सकता है। एंग्रीयंग मैन की छवि को उन्होंने इस फिल्म के जरिये आगे बढ़ाया और सही मायनों में दीवार ने उन्हें सुपरस्टार बनाया। विजय के अंदर धधकती आग को ...
15
16
रितिक रोशन बतौर बाल कलाकार अपने पिता राकेश रोशन की कुछ फिल्में कर चुके थे। थोड़े बड़े हुए तो राकेश ने उन्हें अपना सहायक बना लिया। जब लगा कि उम्र हीरो बनने लायक हो गई है तो 1998 में राकेश रोशन ने उनको लेकर फिल्म 'कहो ना प्यार है' की प्लानिंग बनाई। नए ...
16
17
हेमा-जीतेन्द्र और धर्मेन्द्र का एक किस्सा बहुत मशहूर है। हेमा मालिनी पर जीतेन्द्र बहुत लट्टू थे। उस समय धर्मेन्द्र भी हेमा पर फिदा थे। हेमा मालिनी और जीतेन्द्र गुपचुप तरीके से एक मंदिर में शादी रचाने वाले थे।
17
18
शशिकला रील लाइफ में ज्यादातर परिवार की ऐसी महिला के रूप में दिखाई दीं जिसका काम अपने रिश्तेदारों की जिंदगी में आग लगाने का होता था। कभी वे ननद बन कर भाभी को सताती हुई दिखाई दीं तो कभी सास बन बहू की जिंदगी हराम करती रहीं। परदे की यह कुटील इंसान रियल ...
18
19
भट्ट फैमिली सदैव ही बोल्ड और बिंदास रही है। जो दिल में है उसे छिपाने में उन्होंने कोई परहेज नहीं किया। फिर दुनिया कुछ भी सोचे। दुनिया की ऐसी की तैसी वाली सोच पर वे सदैव चले। महेश भट्ट ने कई बार ऐसी बातें कहीं जिनको लेकर विवाद खड़ा हो गया। उनकी बेटी ...
19