रुपाली गांगुली ने कहा अनुपमा में सुधांशु से बेहतर कोई वनराज नहीं बन सकता...

पुनः संशोधित शनिवार, 5 सितम्बर 2020 (13:45 IST)
रुपाली गांगुली ने कहा अनुपमा में सुधांशु से बेहतर कोई वनराज नहीं बन सकता...
राजन और दीपा शाही के शो 'अनुपमा' ने सभी के दिल को छू लिया है और लोकप्रियता हर दिन नई ऊंचाइयों को प्राप्त कर रही है। शो की सफलता के प्रमुख कारणों में से एक रूपाली गांगुली और सुधांशु पांडे द्वारा निभाई जा रही प्रमुख जोड़ी की अनोखी केमिस्ट्री है। दिलचस्प बात यह है कि दोनों के शायद ही कोई रोमांटिक दृश्य हो, लेकिन जब भी ये दोनों एक साथ दृश्य में होते हैं तो दर्शक स्क्रीन पर से नज़र नहीं हटा पाते। इस बारे में रूपाली कहती हैं:

रोमांटिक दृश्यों की मांग
राजन कास्टिंग में माहिर हैं। मैंने देखा है कि उनके सभी शो में लीड पेयर की केमिस्ट्री जबरदस्त है। मुझे लोगों से रोजाना इतने संदेश मिलते हैं कि वे हमारी केमिस्ट्री को कितना पसंद करते हैं। हाल ही में बहुत सारे अनुरोध किए गए कि हमारे बीच अधिक रोमांटिक दृश्य होने चाहिए। मुझे लगता है कि अगर सुधांशु, वनराज की भूमिका नहीं निभाते तो अनुपमा को इतना प्यार नहीं मिलता। वनराज का लुक और जिस तरह से वह भूमिका को अदा कर रहे हैं वह सराहनीय है। टचवुड हमारी ऑन और ऑफस्क्रीन केमिस्ट्री बहुत अच्छी है।



सुधांशु अच्‍छे इंसान
हम कुछ आम दोस्तों के माध्यम से काफी समय से एक-दूसरे को जानते हैं। हमारे बीच जो अनकही समझ है वो अनमोल है। एक अच्छे अभिनेता के अलावा सुधांशु एक शानदार इंसान भी हैं। मेरे दिवंगत पिता कहा करते थे कि भले ही अभिनेता कभी-कभी लड़खड़ाए, उसे हमेशा एक अच्छा इंसान होना चाहिए। सुधांशु एक अच्छे और दयालु व्यक्ति हैं। हमें जानवरों से लगाव है।

अनुपमा के सेट पर मौज-मस्ती
हम दोनों बच्चों को प्यार करते हैं। वह पूरी तरह से मुझे पसंद करता है और मुझे सेट पर मस्ती करना और लोगों को खुश करना बहुत पसंद है। हम सेट पर मस्ती करते हैं, साथ में लंच करते हैं, जोक्स क्रैक करते हैं। मुझे अनुपमा के सेट पर जाने पर जाने में मजा आता है। यहां मैं कंफर्टेबल महसूस करती हूं। अल्पना बुच, पारस कलनावत, सुधांशु पांडे और मैं सेट पर अविभाज्य हैं और उम्मीद है कि प्यार समय के साथ बढ़ता जाएगा।'



और भी पढ़ें :