'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' के साथ बतौर निर्देशक अपना ब्रॉडवे डेब्यू करने जा रहे आदित्य चोपड़ा

पुनः संशोधित शनिवार, 23 अक्टूबर 2021 (11:21 IST)
यशराज फिल्म्स सबसे बड़ा इंडियन स्टूडियो है और इसके चेयरमैन व मैनेजिंग डाइरेक्टर आदित्य चोपड़ा ने इंडियन सिनेमा के इतिहास की कुछ सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर फिल्मों का निर्देशन और निर्माण किया है। निर्देशन में उनका डेब्यू कराने वाली 1995 में रिलीज हुई ऐतिहासिक रोमांटिक फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ अभी भी थिएटरों में चल रही है।


डीडीएलजे के नाम से लोकप्रिय यह फिल्म इंडियन सिनेमा के इतिहास की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों में गिनी जाती है तथा देश की समृद्ध और विविधतापूर्ण मूवी इंडस्ट्री की सबसे बड़ी आईपी है। आदित्य चोपड़ा 26 साल बाद डीडीएलजे को फिर से निर्देशित करने जा रहे हैं और ब्रॉडवे पर बतौर निर्देशक यह उनकी शुरुआत होगी। उनका दृढ़ मत है कि ब्रॉडवे और इंडियन फिल्में लंबे समय से बिछड़े हुए दो प्रेमी हैं।
इसकी वजह वह दोनों की आंतरिक समानताओं को मानते हैं, क्योंकि ये दोनों दिल को छू लेने वाली कहानियों और मानवीय भावनाओं का म्यूजिक और डांस के माध्यम से जश्न मनाते हैं। आदित्य पिछले तीन वर्षों से इस आत्मीय प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। इस प्रोजेक्ट के लिए उन्होंने ब्रॉडवे और भारत की कुछ बेहतरीन प्रतिभाओं को शामिल करते हुए एक शानदार और बड़ी विविधतापूर्ण टीम तैयार की है।

'कम फॉल इन लव : द डीडीएलजे म्यूजिकल' का निर्माण यशराज फिल्म्स कर रहा है। चोपड़ा की ओरिजिनल कहानी पर आधारित इस म्यूजिकल में लॉरेंस ओलिवर एवार्ड-विनर नेल बेंजामिन (लीगली ब्लॉन्ड, मीन गर्ल्स) की बुक और गीत होंगे तथा टॉप इंडियन सॉन्गराइटर विशाल ददलानी एवं शेखर रावजियानी बतौर कंपोजर काम करेंगे। टोनी एवं एमी विनर रॉब ऐशफोर्ड (फ्रोज़न, थॉरोली मॉडर्न मिली, द ब्वॉयज फ्रॉम सिरैक्यूज) एसोशिएट कोरियोग्राफर श्रुति मर्चेंट के साथ इस प्रोडक्शन की कोरियोग्राफी करेंगे।

डिजाइन टीम एमी और टोनी एवार्ड-विनर डेरेक मैकलेन द्वारा की गई सेट डिजाइन भी शामिल करेगी तथा म्यूजिक की देखरेख टोनी, ग्रैमी व एमी एवार्ड-विनर बिल शेरमैन (इन द हाइट्स, सीसेम स्ट्रीट, हैमिल्टन) करेंगे। एडम ज़ोटोविच इस प्रोजेक्ट के इग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर हैं।

कम फॉल इन लव: द डीडीएलजे म्यूजिकल 2022-2023 के ब्रॉडवे सीजन में स्टेज पर पेश होने के लिए तैयार है, जिसका वर्ल्ड प्रीमियर सैन डिएगो स्थित ओल्ड ग्लोब थिएटर में सितंबर 2022 के दौरान होगा। स्टीवर्ट/व्हिटली कास्टिंग के डंकन स्टीवर्ट तथा यशराज फिल्म्स की कास्टिंग हेड शानू शर्मा की अगुवाई में एक ग्लोबल कास्टिंग खोज जल्द ही शुरू होने जा रही है।
अपने ब्रॉडवे डाइरेक्टोरियल पर आदित्य चोपड़ा का नोट
साल 1985 की गर्मियां। मैं 14 साल का था और लंदन में छुट्टियां बिता रहा था। मेरे माता-पिता मेरे भाई और मुझको म्यूजिकल थिएटर का पहला अहसास दिलाने के लिए ले गए। रोशनी धीमी हो गई, पर्दे उठ गए और अगले 3 घंटों के दौरान जो कुछ सामने पेश हुआ, उसने मुझे अवाक और स्तब्ध कर दिया। तब तक मैं एक ऐसा बच्चा हुआ करता था, जो बड़े शौक और उत्सुकता के साथ फिल्में देखता था और उस वक्त मुझे बिग स्क्रीन पर इंडियन ब्लॉकबस्टर सबसे ज्यादा पसंद आती थीं। लेकिन उस दिन स्टेज पर मैंने जो देखा, उसने मेरे होश उड़ा दिए।

मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि इस तरह का स्पेक्टेकल स्टेज पर लाइव रचा जा सकता है। लेकिन इस अनुभव का सबसे महत्वपूर्ण पहलू मेरे मन में यह गूंजा कि म्यूजिकल थिएटर हमारी इंडियन फिल्मों से कितना मिलता-जुलता है। हकीकत सिर्फ इतनी नहीं थी कि कहानी सुनाने के लिए ये दोनों गानों का इस्तेमाल करते हैं, बल्कि बात इससे कहीं ज्यादा गहरी थी। दरअसल दोनों हूबहू एक जैसी भावनाएं जगाते थे। रंगों की बौछार, बेहद नाटकीयता, जोशीला गायन, बेदाग डांस, एक क्लासिक कहानी, एक सुखद अंत! इसने मुझे उसी तरह की खुशियों और भावनाओं से भर दिया, जो कोई भी अच्छी इंडियन फिल्म करती है। तभी मुझे एहसास हुआ कि अलग दुनिया, अलग भाषाओं के बावजूद इंडियन फिल्में और वेस्टर्न म्यूजिकल थिएटर लंबे समय से बिछड़े हुए दो प्रेमी हैं।
सन 2021 की सर्दियां… मैं अपने अब तक के सबसे महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट का शुभारंभ करने जा रहा हूं। मैं लंबे समय से बिछड़े दो प्रेमियों- ब्रॉडवे म्यूजिकल और इंडियन फिल्मों का पुनर्मिलन करा रहा हूं। 26 साल पहले मैंने अपने करियर की शुरुआत ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ नामक फिल्म से की थी। इस फिल्म ने इतिहास रच दिया और मेरे साथ-साथ कई अन्य लोगों की जिंदगी हमेशा के लिए बदल दी। लेकिन ज्यादातर लोगों को यह पता ही नहीं है कि डीडीएलजे को हिंदी में बनाने का मेरा इरादा कभी भी नहीं था।

एक 23 वर्षीय युवक के तौर पर मैं हॉलीवुड और अमेरिकी पॉप कल्चर से बेहद प्रभावित था और मैंने सोच रखा था कि चंद इंडियन फिल्में बनाने के बाद मैं हॉलीवुड भाग जाऊंगा और टॉम क्रूज को मेन लीड में लेकर वर्ल्डवाइड अंग्रेजी बोलने वाली ऑडियंस के लिए डीडीएलजे बनाऊंगा। जाहिर है कि ऐसा नहीं हो सका। डीडीएलजे 1995 में रिलीज हुई और इंडियन सिनेमा की सबसे लंबी चलने वाली फिल्म बन गई। इसने मुझे मेरी पहचान दी और एक अद्भुत यात्रा शुरू की, जिसके लिए मैं डीडीएलजे का हमेशा आभारी रहूंगा।
मैं डीडीएलजे की कहानी के अपने ओरिजिनल विजन पर 26 साल बाद लौट रहा हूं, जो एक अमेरिकी लड़के और एक भारतीय लड़की की लव स्टोरी है, दो संस्कृतियों की... दो दुनिया की प्रेम कहानी है। लेकिन इस बार माध्यम सिनेमा नहीं, बल्कि रंगमंच है। 26 साल बाद मैं डीडीएलजे को एक बार फिर से निर्देशित करूंगा, लेकिन इस बार यह दुनिया भर के दर्शकों के लिए एक इंग्लिश लैंगुएज ब्रॉडवे म्यूजिकल के रूप में होगा।
मैं बहुत नर्वस और बेहद उत्साहित हूं। मैं सिनेमा का एक कट्टर आदमी हूं, मैंने अपने जीवन में कभी थिएटर नहीं किया और अब मैं अपने जीवन की सबसे दीवानगी भरी महत्वाकांक्षा को पूरा करने की कोशिश कर रहा हूं। लेकिन मेरी शानदार टीम ने मुझमें आत्मविश्वास भर दिया है। टीम का हर सदस्य अपने-अपने फील्ड का उस्ताद है और उनकी उत्कृष्टता व विशेषज्ञता इसे एक शानदार शो बनाएगी। इस आत्मीय प्रोजेक्ट को हमने पिछले 3 वर्षों में डेवलप किया है और इस दौरान मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है।

मुझे ब्रॉडवे समुदाय के पास मौजूद अविश्वसनीय टैलेंट का भी पता चला। मैं खुद को दोबारा 23 साल का महसूस कर रहा हूं। इसी उम्र में मैंने डीडीएलजे का निर्देशन किया था। मैं एक बार फिर से स्टुडेंट बन गया हूं। थिएटर की दुनिया में मेरी टीम का हर सदस्य मुझसे ज्यादा अनुभवी है। मैं नौसिखिया हूं और इसके हर पल का आनंद ले रहा हूं। मैं थिएटर के इन अद्भुत कलाकारों और ब्रॉडवे म्यूजिकल्स की जादुई दुनिया के साथ सीखने, खोजने, रचने और आनंद लेने के लिए पूरी तरह से कमर कस चुका हूं। कम फॉल इन लव: द डीडीएलजे म्यूजिकल के साथ 2022 की शरद ऋतु में स्टेज पर आपसे मुलाकात होगी।

नेल बेंजामिन का कथन
कमाल के शख्स आदित्य चोपड़ा को जानने से भी पहले इंडियन फिल्ममेकिंग से मेरा परिचय कराने वाली फिल्म थी- डीडीएलजे। फिल्म में इतना आनंद और ऐसी आत्मीयता भरी हुई थी कि मुझे इससे प्यार हो गया। इसका म्यूजिकल बनाने के लिए मुझसे संपर्क करने को लेकर मैं बेहद खुश हुआ हूं।

मुझे उम्मीद है कि मेरा काम सबको सिमरन और राज की मोहब्बत में डुबा देगा तथा प्यार करने के लिए कई संस्कृतियों से होकर गुजरी उनकी यात्रा से लगाव महसूस कराएगा। दुनिया को हमेशा एक बेहतर सांस्कृतिक समझ से काम लेने की जरूरत होती है। मैं ऑडियंस के साथ थिएटर में बैठ कर कम फॉल इन लव: द डीडीएलजे म्यूजिकल का आनंद लेने के लिए बेताब हूं।"



और भी पढ़ें :