'कौन बनेगा पीएम'- लोकसभा चुनाव 2019 में कितने दावेदार?

Last Updated: रविवार, 12 मई 2019 (11:01 IST)
इंद्र कुमार गुजराल या एचडी देवेगौड़ा जैसे नेता भी राष्ट्रीय स्तर पर राजनीति नहीं कर रहे थे, जब उन्हें प्रधानमंत्री बनने का मौका मिला। अगर कांग्रेस या भाजपा को बहुमत नहीं मिलता है और तीसरे मोर्चे की नौबत आई तो क्षेत्रीय दलों के कुछ नेता हैं, जो 2019 में पीएम पद के दावेदार हो सकते हैं।
ममता बनर्जी

ममता बनर्जी खुद कांग्रेस का भी हिस्सा रही हैं, फिर उनकी पार्टी भी यूपीए का हिस्सा रही। हाल ही में सीबीआई को लेकर केंद्र के साथ टकराव में कई विपक्ष के नेताओं ने उनका साथ दिया, जैसे राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, तेजस्वी यादव, मायावती और अखिलेश यादव। चंद्रबाबू नायडू के केंद्र के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को भी उन्होंने अपना समर्थन दिया।

2014 के में 42 सीटों में से 32 सीटों पर तृणमूल की जीत हुई थी यानी ममता बनर्जी ने अपनी तैयारियां पूरी कर रखी हैं। जनवरी में तृणमूल कांग्रेस की 21वीं सालगिरह पर तृणमूल के नेताओं ने ममता का नाम पीएम पद के लिए आगे बढ़ाया। उनकी पूरी प्रोफाइल आप यहां क्लिक करके पढ़ सकते हैं। लेकिन ममता बनर्जी एकमात्र विकल्प नहीं हैं।

और भी पढ़ें :