गुरु का तारा : अस्त और उदय की तारीखें

Guru Tara Ast And Uday
Guru Tara Ast And Uday
Last Updated: मंगलवार, 18 जनवरी 2022 (15:34 IST)
गुरु अर्थात बृहस्पति के साथ ही शुक्र के अस्त होने के साथ ही मांगलिक कार्य बंद हो जाते हैं और इन्हीं के उदय होने के साथ ही मांगलिक कार्य प्रारंभ हो जाते है। गुरु के उदय और अस्त होने का खास महत्व है। आओ जानते हैं गुरु के उदय और अस्त होने की तारीखें।


शुक्र तारा : शुक्र धनु राशि में जनवरी 2 रविवार को अस्त होने के बाद जनवरी 15 शनिवार को उदय हुए थे अब शुक्र सिंह राशि में 15 सितंबर 2022 गुरुवार को अस्त होंगे और वृश्चिक राशि में 2 दिसंबर 2022, शुक्रवार को उदित होंगे।


गुरु तारा : बृह्सपति कुम्भ राशि में 19 फरवरी 2022 शनिवार को 10:23:40 को अस्त होंगे और कुंभ राशि में 20 मार्च 2022 रविवार को 07:50:53 बजे उदित होंगे।

वक्री : बृहस्पति ग्रह शुक्रवार 29 जुलाई 2022 वक्री होकर 24 नवंबर 2022 गुरुवार को को मीन राशि में मार्गी होंगे।

नोट : पंचांग भेद और मतांतर के कारण उपरोक्त तारीख और समय में भेद हो सकता है।



और भी पढ़ें :