1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. ज्योतिष आलेख
  4. Numerology For No 2

मूलांक 2 के लोग कैसे होते हैं? 11, 20, 29 तारीख के लोगों में होता है अंतर

कैसे होते हैं मूलांक 2 के जातक जानिए न्यूमरोलॉजी एक्सपर्ट हंसा केवलिया पंडित से

आइए बात करते हैं मूलांक 2 की। यह चंद्रमा से प्रभावित अंक है। इस मूलांक के लोग बहुत भावुक होते हैं क्योंकि इस अंक का स्वामी चंद्रमा है तो इन जातकों का स्वभाव चंचल होता है। चंद्रमा मां और मन का प्रतीक होता है। इस मूलांक वालों पर स्त्रियों का प्रभाव ज्यादा होता है।

ऐसे जातकों को महिला जातक से विशेष लाभ होता है। इस मूलांक के जातक के जीवन में स्थायित्व की कमी होती है। अपवाद संभव है। 2 मूलांक वाले जातकों को शीत संबंधित रोग होते हैं। इन लोगों को उदर विकार भी होता है। 2 मूलांक वाले जातकों को दूध,पानी, कपास से संबंधित व्यवसाय करना चाहिए। ये लोग एजेंट का काम भी कर सकते हैं। 
 
किसी भी महीने की 2, 11, 20, 29 तारीख को जन्म लिए हुए जातकों का मूलांक 2 ही होगा किंतु 11 में 1 और 1 यानी 2 सूर्य के अंक आ रहे हैं। उनका जोड़ दो यानी चंद्रमा का, अत: मूलांक 2 वाले ऐसे जातक पर सूर्य और चंद्र दोनों का प्रभाव होगा। ऐसे ही 29 तारीख में 2 चंद्र का और 9 मंगल का है। ऐसे मूलांक 2 वाले जातक पर मंगल और चंद्र का प्रभाव रहेगा। 
 
2 मूलांक वाले जातक अंतर्मुखी होते हैं। अति भावुक होने की वजह से किसी से भी अपनी गुप्त जानकारियां भी शेयर कर देते हैं। जिसकी वजह से परेशानी में आ जाते हैं। इन्हें हमेशा गले में चांदी धारण करना चाहिए। घर से निकलते वक्त हमेशा पानी पीकर निकलना चाहिए। लोगों पर अति भरोसा करने से बचना चाहिए।  अपने आराध्य शिवजी की आराधना से यह बहुत से कष्ट और गुप्त शत्रुओं से बचेंगे। 

ज्योतिषाचार्य हंसा केवलिया पंडित विगत 30 वर्षों से टैरो, न्यूमरोलॉजी और ज्योतिष के क्षेत्र में जाना-माना नाम है और कई सम्मान से नवाजी जा चुकी हैं। संपर्क : [email protected]