श्रीलंंका टीम ने ड्रेसिंग रूम में ऐसे मनाया एशिया कप जीतने का जश्न (Video)

Last Updated: सोमवार, 12 सितम्बर 2022 (16:48 IST)
हमें फॉलो करें

अफगानिस्तान के खिलाफ करीब 100 रनों पर ऑल आउट होने के बाद सिर्फ 10 ओवरों में अपना पहला मैच 8 विकेट से हार जाने के बाद शायद ही श्रीलंका के किसी फैन ने सोचा होगा कि यह टीम एशिया कप जीतेगी।

दूसरे मैच में बांग्लादेश के खिलाफ करुणार्त्ने के रन आउट के बाद टीम लगभग सुपर 4 से भी बाहर हो गई थी। लेकिन टीम जैसे तैसे सुपर 4 में आ पाई।

यही कारण रहा कि इसके बाद टीम की खिताबी जीत के बाद टीम की जीत का ठिकाना नहीं था। एशिया कप थामने से पहले जो जश्न श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने ड्रेसिंग रूम में दिखा वह देखने लायक था।
ड्रेसिंग रूम में जश्न के बाद श्रीलंका की टीम ने जब 8 साल बाद अपना छठवां एशिया कप उठाया तो उनके लिए खुशी का ठिकाना ना रहा। यह पहले बल्लेबाजी करते हुए इस साल श्रीलंका की पहली टी-20 जीत भी थी।

राजपक्षे ने एशिया कप फाइनल की पारी को सर्वश्रेष्ठ बताया

एशिया कप 2022 फाइनल में श्रीलंका की जीत के नायक भानुका राजपक्षे ने कहा है कि पाकिस्तान के खिलाफ खेली गयी पारी उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक है।

पाकिस्तान के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने 58 रन पर पांच विकेट गंवा दिये थे, लेकिन राजपक्षे टीम के लिये संकटमोचक बनकर उभरे और 45 गेंदों पर छह चौकों के साथ तीन छक्के जड़कर 71 रन की नाबाद पारी खेली।

राजपक्षे ने वानिंदू हसरंगा के साथ 58 रन और चमिका करुणारत्ने के साथ 54 रन की साझेदारी करते हुए टीम को 170 रन के स्कोर तक पहुंचाया। श्रीलंका ने राजपक्षे की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की बदौलत आखिरी पांच ओवर में 53 रन जोड़े जो आगे चलकर निर्णायक साबित हुए।

राजपक्षे ने कहा, “यह बेशक एक शानदार पल है। यह मेरी बहुत कम समय में खेली गई सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक है। हम दुनिया को दिखाना चाहते थे कि दो दशक पहले हमारी टीम में जो आक्रामकता थी वह आज भी बरकरार है। हमने एक टीम के रूप में यह काम बखूबी निभाया हैं। अब हम (टी20) विश्व कप की तैयारी कर रहे हैं और इस लय को बरकरार रखना चाहते हैं।”

उन्होंने कहा, “ एक राष्ट्र के रूप में यह जीत विशेष है क्योंकि देश इस समय संकट के दौर से गुजर रहा है। यह श्रीलंका के लोगों के लिये मुश्किल समय है और हम उम्मीद करते हैं कि हम देशवासियों के चेहरों पर मुस्कान ला पाये होंगे। ”
शनका ने टीम की एकजुटता की करी तारीफ

श्रीलंका को छठा एशिया कप खिताब जिताने वाले कप्तान दसुन शनाका ने बताया कि टूर्नामेंट के पहले मैच में अफगानिस्तान के हाथों आठ विकेट की निराशाजनक हार के बाद टीम ने गहन चिंतन किया था, जिसके नतीजे बाकी के टूर्नामेंट में देखने को मिले।

शनाका ने कहा, “ पहली हार के बाद हमने गंभीर बातचीत की। हमें पता था कि हमारे पास प्रतिभा है जिसे हमें मैदान पर प्रदर्शन में बदलना था। खिलाड़ियों ने जिम्मेदारी ली और सब ने जीत में योगदान दिया। हमने कोचिंग स्टाफ के साथ यही वातावरण तैयार किया है। ”

शनाका ने कहा, “ मैच में आने से पहले, हम जानते थे कि हमारी गेंदबाजी के लिये 170 रन इस विकेट पर एक अच्छा स्कोर होगा। जैसा कि मैंने पहले उल्लेख किया है, हमारे पास हमारे लाइन-अप में आवश्यक विविधता है। फाइनल में 170 रन का पीछा करना हमेशा कठिन होता है। इसका कुछ मानसिक पहलू भी है। मुझे लगता है कि भानु (राजपक्षे) ने जो आखिरी छक्का मारा, वह भी खास था। ”

शनाका को अब उम्मीद है कि एशिया कप की जीत उन्हें टी20 विश्व कप में अच्छी स्थिति में रखेगी, जहां उन्हें सुपर 12 में पहुंचने के लिए पहले दौर की बाधा को पार करना होगा। श्रीलंका के कप्तान इस बारे में ज्यादा चिंतित नहीं हैं और उन्हें लगता है कि इससे उन्हें परिस्थितियों के लिये तैयार होने में मदद मिलेगी।

कप्तान शनाका ने कहा, “ हमने पिछले साल भी (विश्व कप) क्वालीफायर खेले थे। हमें जो टीम मिली है, उसके साथ यह एक ऐसा सेट है जो 3-4 साल पहले आया था। पिछले दो साल हमारे लिए वास्तव में अच्छे रहे हैं। मुझे लगता है। गति है, और एशिया कप जीतना वास्तव में हमें विश्व कप में जाने में मदद करेगा। क्वालीफायर भी मदद करेगा क्योंकि हम मुख्य टूर्नामेंट होने से पहले उन परिस्थितियों में खेलेंगे। यह वास्तव में हमारे लिए अच्छा होगा। ”



और भी पढ़ें :