सेंसेक्स में 346 अंकों की तूफानी तेजी

मुंबई| भाषा|
FILE
(पीएन) के जरिए करने वाले विदेशी निवेशकों को कर के दायरे में न खींचने की सरकार की स्पष्ट घोषणा पर शुक्रवार को शेयर बाजारों में जश्न मना। बंबई का मूख्य सूचकांक पिछले दो दिन की गिरावट का सिलसिला तोड़कर 346 अंक के जोदार लाभ में बंद हुआ।


बाजार सूत्रों के अनुसार वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी की तरफ से शेयर सौदों के कर मामले में स्पष्टीकरण आने के बाद बाजार में कारोबारी धारणा में बदलाव आया। वित्त मंत्री ने कहा कि पार्टिसिपेटरी नोट के जरिए भारतीय शेयर बाजारों में निवेश करने वाले विदेशी संस्थागत निवेशकों को भारत में कर नहीं देना होगा।

बीएसई संवेदी सूचकांक आज 345.59 अंक यानी 2.03 प्रतिशत बढ़कर 17,404.20 अंक पर बंद हुआ। सरकार के स्पष्टीकरण के बाद विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली ने जोर पकड़ लिया।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का (एनएसई) 50 सूचकांक, निफ्टी भी आज 116.70 अंक बढ़कर 5,295.55 अंक पर बंद हुआ। इस स्तर पर बंद होने से पहले यह 5,300 अंक को छू गया था।


पार्टिसिपेटरी नोट के जरिए निवेश करने का रास्ता ऐसे विदेशी निवेशक अपनाते हैं जो सीधे सेबी के पास पंजीकृत नहीं है। ऐसे निवेशक पंजीकृत विदेशी संस्थागत निवेशकों के जरिए इश्यू किए गए पार्टिसिपेटरी नोट के जरिए शेयरों की खरीदारी करते हैं।
यूरोपीय बाजारों में भी आज मजबूती का रुख रहा।

भारतीय स्टेट बैंक का शेयर आज 1.62 प्रतिशत चढ़ गया जबकि आईसीआईसीआई बैंक के शेयर में 3.64 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। एचडीएफसी बैंक का शेयर मूल्य 1.83 प्रतिशत और बैंक ऑफ इंडिया का शेयर 2.75 प्रतिशत ऊंचा रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड का शेयर भी 3.23 प्रतिशत और इंफोसिस का शेयर मूल्य 2.65 प्रतिशत चढ़ गया। सूचकांक में इन दोनों कंपनियों का भारांश 20 प्रतिशत के आसपास है।(भाषा)



और भी पढ़ें :