बारूदी सुरंग में विस्फोट, तीन मृत

रायपुर (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की जीप को उड़ा दिया जिसमें एक अधिकारी समेत तीन जवानों की मृत्यु हो गई तथा दो अन्य घायल हो गए।


दुर्ग जिले के पुलिस अधिकारियों ने रविवार को यहाँ बताया कि जिले के दल्लीराजहरा थाने के अंतर्गत महामाया माइंस के करीब नक्सलियों ने बारुदी सुरंग में विस्फोट कर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की जीप को उड़ा दिया जिसमें एक सहायक पुलिस निरीक्षक एक हवलदार और एक सिपाही की मृत्यु हो गई तथा दो अन्य घायल हो गए। घायलों को भिलाई के सेक्टर नौ के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
अधिकारियों ने बताया कि सीआईएसएफ के पाँच जवानों का दल आज दोपहर बाद जीप में सवार होकर महामाया माइंस से दल्लीराजहरा माइंस की ओर रवाना हुआ था कि रास्ते में करीब 40 नक्सलियों के दल ने बारुदी सुरंग में विस्फोट कर दिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट के बाद नक्सलियों ने जवानों के हथियार भी लूट लिया।

उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही घटनास्थल के लिए अतिरिक्त पुलिस बल रवाना किया गया। वहीं जिले के वरिष्ठ अधिकारी भी घटना स्थल के लिए रवाना हो गए।


गौरतलब है कि दुर्ग जिले के दल्लीराजहरा और महामाया लौह अयस्क की खदानों से स्टील अथरिटी ऑफ इंडिया के भिलाई अस्पात संयंत्र को लौह अयस्क की आपूर्ति होती है। दो माह पहले नक्सलियों ने महामाया माइंस में हमला कर लगभग दो टन विस्फोटक लूट लिया था। इस घटना के बाद राज्य की पुलिस और इस्पात संयंत्र प्रबंधन ने यहाँ सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने का दावा किया था।
नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में यह पहला मौका है जहाँ नक्सलियों ने बारुदी सुरंग में विस्फोट कर सुरक्षा बल के जवानों की जानें ली है। भिलाई इस्पात संयंत्र के कारण देश भार में प्रसिद्ध इस जिले को अभी तक नक्सल प्रभावित जिलों से अलग रखा गया था लेकिन नक्सलियों ने इस घटना के बाद यहाँ अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है।



और भी पढ़ें :