अहमदाबाद धमाकों का मास्टरमाइंड गिरफ्तार

कुल दस आरोपी पकड़ाए, सभी से पूछताछ जारी

WD
अहमदाबाद में 26 जुलाई को हुए सिलसिलेवार बम विस्फोटों के पीछे सिमी का हाथ था। नौ अन्य के साथ हमले की साजिश रचने वाले सरगना को गिरफ्तार किया गया है।

गुजरात के पुलिस महानिदेशक पीसी पांडे ने बताया विस्फोटों के मास्टरमाइंड सिमी कार्यकर्ता मुफ्ती अबु बशीर को आज सुबह उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ जिले से गिरफ्तार किया गया।

ऐसे संकेत हैं कि बशीर का जयपुर हैदराबाद और बेंगलुरु विस्फोटों से रिश्ता हो सकता है। बशीर को पूछताछ के लिए अहमदाबाद लाया जाएगा। ये लोग सूरत में बम रखने में भी शामिल थे। सूरत शहर में करीब दो दर्जन बम रखे गए थे, जिन्हें निष्क्रिय कर दिया गया था।

उन्होंने कहा गिरफ्तार सभी आरोपी प्रतिबंधित संगठन सिमी (स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया) के सक्रिय कार्यकर्ता हैं। वे इसकी गतिविधियों में गहराई से शामिल थे।

पांडे ने कहा गिरफ्तारियाँ केंद्रीय खुफिया एजेंसियों और महाराष्ट्र, राजस्थान, दिल्ली, कर्नाटक तथा केरल पुलिस की सूचना के आधार पर की गईं। सिमी और आईएसआई के बीच संबंध होने से भी पांडे ने इनकार नहीं किया।

जनवरमेरचसाजिश : संयुक्त पुलिस आयुक्त (अहमदाबाद अपराध शाखा) आशीष भाटिया ने कहा अहमदाबाद में बम विस्फोटों की साजिश जनवरी 2008 में वडोदरा के हलोल तालुका में सिमी सरगना सफदर नागौरी द्वारा आयोजित प्रशिक्षण शिविर में रची गई। नागौरी को मध्यप्रदेश पुलिस ने मार्च 2008 में गिरफ्तार किया था।

भाटिया के अनुसार शहर में बम विस्फोटों के लिए अप्रैल, मई और जून में कई बैठक की गईं, जबकि अंतिम बैठक शहर में 20 जुलाई को हुई। अबु बशीर और गिरफ्तार किए गए अन्य संदिग्ध सभी बैठकों में मौजूद थे, जहाँ उन्होंने अपनी योजना के कार्यान्वयन की रणनीति तैयार की। बैठकों के दौरान संदिग्धों ने विस्तृत योजना बनाई कि कब और कहाँ विस्फोट किए जाएँगे। हर व्यक्ति को विशिष्ट कार्य सौंपा गया।

भाटिया ने कहा उनकी रणनीति लोगों में अफरातफरी मचाने के लिए अलग-अलग जगहों पर छोटे छोटे विस्फोटक रखने की थी। उसके बाद अस्पताल में शक्तिशाली विस्फोट करना था, जहाँ विस्फोटों से घायल लोग जा रहे होंगे। अतः उन्होंने शहर के सिविल अस्पताल को निशाना बनाया। साजिश का ब्योरा नौ आरोपियों ने दिया है, जिसमें चार वडोदरा और पाँच अहमदाबाद के हैं।

अहमदाबाद (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
जिन नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें जाहिद शेख, यूनुस मंसूरी, शम्सुद्दीन शेख, आरिफ कादरी, गयासुद्दीन, इमरान, उस्मान अगरबत्तीवाला, इकबाल शेख और साजिद मंसूरी शामिल हैं। सभी 20 से 25 वर्ष की उम्र के हैं।



और भी पढ़ें :