जम्मू-कश्मीर में अब तक 65 फीसदी मतदान

श्रीनगर (वार्ता)| वार्ता| पुनः संशोधित रविवार, 14 दिसंबर 2008 (17:05 IST)
जम्मू-कश्मीर में अब तक हुए पाँच चरणों के में 65 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया है। पाँच चरणों में 50 सीटों के लिए मतदान हुआ है।

यह भी काफी दिलचस्प बात है कि अधिकतर मतदाता बड़ी उम्र के हैं। इनका कहना है कि इस लोकतांत्रिक प्रक्रिया में हिस्सा लेना सभी की नैतिक जिम्मेदारी है। इन चुनावों में पहली बार हिस्सा ले रहे युवा मतदाताओं का मानना है कि विधानसभा अथवा संसद के लिए जो प्रतिनिधि चुना जाता है, अगर वह अपनी जिम्मेदारी ठीक से नहीं निभाता तो ऐसे प्रतिनिधियों को भी वापस बुलाने का विकल्प होना चाहिए।

अधिकतर मतदाताओं का कहना है हम अपने ऐसे प्रतिनिधि चुनने के लिए वोट डाल रहे हैं, जो हमारे क्षेत्रों का विकास कर सके। इन युवाओं में कुछ ऐसी लड़कियाँ भी थीं, जो शिक्षा पूरी करने के बाद बेरोजगार हैं।

उनका कहना है हम रोजगार हासिल करने के लिए वोट डाल रहे हैं अथवा उन प्रतिनिधियों को चुन रहे हैं जो अपनी औद्योगिक ईकाइयाँ स्थापित करने में हमारी मदद कर सकें। अब तक हुए मतदान में कुल मिलाकर लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएँ देखने को मिली हैं।



और भी पढ़ें :