'एक रैंक-एक पेंशन' पर फैसला इसी माह

नई दिल्ली (भाषा)| भाषा|
देश की सेना के तीनों अंगों की सर्वोच्च कमांडर राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने भूतपूर्व सैनिकों के कल्याण को उच्च प्राथमिकता देने का भरोसा दिलाते हुए गुरुवार को घोषणा की कि इसी महीने के अंत तक सेना में 'एक रैंक-एक पेंशन' के मामले में अंतिम फैसला कर लिया जाएगा।

राष्ट्रपति ने नई लोकसभा के गठन के बाद संसद के संयुक्त अधिवेशन में दिए अपने अभिभाषण में कहा कि मंत्रिमंडल सचिव की अध्यक्षता में गठित समिति ने एक रैंक-एक पेंशन के मुद्दे की जाँच-पड़ताल करने के लिए पहले ही काम शुरू कर दिया है। आशा है कि जून 2009 के अंत तक इसे पूरा कर लिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि भूतपूर्व सैनिकों के कल्याण को उच्च प्राथमिकता दी जाती रहेगी। सर्वोच्च कमांडर ने यह भी घोषणा की कि भूमि, समुद्र और आकाश से होने वाले किसी भी खतरे से निपटने के लिए सेना को आधुनिक प्रौद्योगिकी के जरिये पूर्ण रूप से समर्थ बनाया जाएगा।
उन्होंने कहा कि युद्ध-कौशल बढ़ाने के साथ-साथ आधुनिक समय के युद्ध की जरूरतें पूरी करने के लिए भी कई कदम उठाए जा रहे हैं। प्रतिभा पाटिल ने कहा हमारे सशस्त्र बल राष्ट्र के गौरव, बलिदान और पराक्रम के हमारे मूल्यों तथा राष्ट्रीय एकीकरण की भावना के प्रतीक हैं।



और भी पढ़ें :