खेलों में भ्रष्टाचार : विशेष इकाई बनाएगा सीबीआई

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 15 जनवरी 2014 (15:50 IST)
FILE
नई दिल्ली। के बढ़ते खतरों को ध्यान में रखते हुए खेलों में धोखाधड़ी, और गैरकानूनी सट्टेबाजी से निबटने के लिए जल्द ही विशेष इकाई गठित करेगा।


सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्हा ने फीफा इंटरपोल राष्ट्रीय कार्यशाला में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि खेलों में धोखाधड़ी से जुड़े मामलों की जांच में कानूनी ढांचा नहीं होने से बाधा पैदा होती है।

सिन्हा ने अपने मुख्य भाषण में कहा कि सीबीआई ने सामान्य रूप से खेलों में भ्रष्टाचार के बढ़ते खतरों विशेषकर फुटबॉल और अन्य खेलों की चुनौतियों को नोटिस किया है। जल्द ही हम विशेष अपराध शाखाओं के तहत सीबीआई में खेलों में धोखाखड़ी के लिए जांच इकाई गठित करेंगे।

उन्होंने कहा कि यह इकाई खेलों में भ्रष्टाचार से जुड़े आंकड़े संग्रह करेगी। सिन्हा ने कहा कि यह दुनिया की अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ सहयोग करेगी और राज्य पुलिस बलों के साथ सहयोग के लिए नोडल एजेंसी के रूप में काम करेगी।


यह मैच फिक्सिंग और भ्रष्ट गतिविधियों को रोकने की क्षमता बढ़ाने के लिए खेल महासंघों के साथ समन्वय और संबंध स्थापित करने का हमारा प्रयास होगा।
सीबीआई अधिकारियों से जब पूछा गया कि खेलों में भ्रष्टाचार की जांच के लिए जब कानूनी ढांचा ही नहीं है तो फिर यह इकाई कैसे काम करेगी? तो उन्होंने कहा कि खेल मंत्रालय खेलों में भ्रष्टाचार को रोकने के लिए कानून बना रहा है और यह अपने अंतिम चरण में है। (भाषा)



और भी पढ़ें :