सिब्बल के इलाके में अण्णा की सेंध

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 21 जुलाई 2011 (17:32 IST)
हमें फॉलो करें
गांधीवादी अण्णा हजारे के स्वयंसेवकों ने लोकपाल के मुद्दे पर जनमत संग्रह के जरिए सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश के तहत आज केंद्रीय मंत्री के के करीब 10 विभिन्न इलाकों में अपना शुरू कर दिया।


यह सर्वेक्षण 24 जुलाई तक चलेगा। इसके लिए हजारे के आंदोलन ‘इंडिया अगेन्स्ट करप्शन’ ने विभिन्न संगठनों के सैकड़ों स्वयंसेवियों की मदद ली है।

जनमत संग्रह के लिये हो रही इस रायशुमारी के पहले दिन आज सुबह स्वयंसेवियों ने सिब्बल के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र चांदनी चौक के 10 स्थानों पर प्रश्नावली वितरित करने का काम शुरू किया।

ये 10 क्षेत्र हैं निमरी कॉलोनी, वजीरपुर, आदर्श नगर, धीरपुर, पश्चिम विहार उत्तर, पश्चिम विहार दक्षिण, रामपुरा, शकूरपुर, इंदरलोक और मॉडल टाउन।


इसके लिए ‘इंडिया अगेन्स्ट करप्शन’ ने अपना नियंत्रण कक्ष भी स्थापित किया है ताकि प्रश्नावली वितरित कर रहे स्वयंसेवियों के साथ समन्वय रखा जा सके।
इस गैर-सरकारी संगठन की प्रवक्ता अश्वती मुरलीधन ने कहा कि प्रश्नावली वितरित करने का काम सुबह करीब साढ़े दस बजे शुरू हुआ।

सर्वेक्षण के पहले दिन के लिए चांदनी चौक निर्वाचन क्षेत्र के 10 वार्डों को चुना गया है। शेष इलाकों में कल प्रश्नावली वितरित की जाएगी। इन प्रश्नावली को लोगों के जवाब के साथ एकत्रित करने का काम 23 जुलाई से शुरू होगा।
चार दिन चलने वाली इस कवायद में जनता से सीधे सवाल किया जा रहा है कि लोकपाल विधेयक पारित कराने के लिये वह संसद से क्या अपेक्षा रखती है। इस निर्वाचन क्षेत्र में मतदाताओं की संख्या 14 लाख है। हजारे पक्ष ने सात लाख लोगों तक पहुंचने का लक्ष्य रखा है। (भाषा)



और भी पढ़ें :