कृष्णा, थरूर ने पाँच सितारा होटल छोड़े

नई दिल्ली (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
सरकार के किफायत बरतने के अभियान के बीच पाँच सितारा होटलों में रहने के कारण आलोचना का सामना कर रहे विदेशमंत्री एसएम कृष्णा और विदेश राज्यमंत्री होटल छोड़कर दूसरे स्थानों पर रहने चले गए।


मंत्रियों द्वारा किफायत बरतने पर जोर देने वाले वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी ने इस मंत्रियों से ‘आग्रह’ किया कि वे होटल के कमरे खाली कर दें और अपने राज्य के भवनों में चले जाएँ।

कृष्णा ने कहा कि उन्हें आवंटित सरकारी मकान अभी रहने के लिए तैयार नहीं है इसलिए उन्हें दिल्ली में रहने के लिए अपना निजी बंदोबस्त करना पड़ा। जानकारी सूत्रों ने बताया कि होटल मौर्या शेरटन में रह रहे कृष्णा अब विदेश सेवा संस्थान के अतिथि गृह में रहने चले गए हैं।

कृष्णा ने कहा कि मैंने कुछ निजी इंतजाम किया है और दिल्ली में रहने के लिए मैं इसी तरह की निजी व्यवस्था जारी रखूँगा। विदेश राज्यमंत्री शशि थरूर ने ट्विटर पर अपनी टिप्पणी में लिखा कि अगर मैं लोगों का पैसा खर्च कर रहा होता तो मैं शर्मिंदा होता, लेकिन मैं ऐसा नहीं कर रहा, मैं अपना पैसा खर्च कर रहा हूँ।

उन्होंने लिखा कि यह बेकार की बात है। मैं करदाताओं का पैसा खर्च नहीं कर रहा था और कोई सरकारी विशेषाधिकार भी इस्तेमाल नहीं कर रहा था। मामले में मुखर्जी के दखल को सही ठहराते हुए कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि वह बहुत वरिष्ठ मंत्री हैं और होटल छोड़ने का फैसला दोनो मंत्रियों पर छोड़ दिया गया।



और भी पढ़ें :