ज्यादा अंडे यानी मौत को न्योता

नई दिल्ली। | ND| Last Updated: बुधवार, 9 जुलाई 2014 (19:56 IST)
अभी तक यह माना जाता रहा है कि कसरत करने के बाद या तैरने के बाद यदि पौष्टिक चीजों का सेवन कर लिया जाए तो वह शरीर को लगती है और इसमें अंडे का सेवन गड़बड़ी करा देता है। अमेरिका के शोधकर्ताओं ने कहा है कि ज्यादा मात्रा में अंडे खाना मौत को न्योता देना है।


जिन लोगों को मधुमेह है, उनकी स्थिति और भी खराब हो सकती है। मधुमेह के जो रोगी अंडे का सेवन करते हैं, मानो वे मौत की और दौड़ लगा रहे हैं। उनको नुकसान होने की आशंका तुलनात्मक रूप से ज्यादा हो जाती है।

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रीशन के मुताबिक अभी तक इस बात को लेकर विरोधाभास रहा है कि अंडे खाने के लिहाज से बेहद सुरक्षित हैं। यह पता नहीं चल सका था कि अंडे मौत के मुहाने पर ले जाते हैं।

यदि व्यक्ति एक सप्ताह में सात या इससे ज्यादा अंडे का सेवन करता है तो उसे नुकसान हो सकता है। अंडे में कोलेस्ट्रॉल काफी ज्यादा होता है। इसके अलावा यह धमनियों को भी अवरुद्ध करता है, जिसकी वजह से दिल का दौरा और पक्षाघात हो सकते हैं।


प्रौढ़ व्यक्ति को हमेशा यह ध्यान रखना चाहिए कि उसने कितने अंडे खाए हैं। हार्वर्ड की टीम ने करीब 21,327 लोगों पर परीक्षण किया। इसमें पाया गया कि अंडा स्वास्थ्य और जीवनशैली के आधार पर ग्रहण किया जाना चाहिए। (नईदुनिया)



और भी पढ़ें :