कांग्रेस को पुनर्जीवित करने के लिए समिति

नई दिल्ली (भाषा)| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 31 मई 2008 (22:19 IST)
कर्नाटक सहित कुछ राज्यों के विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद पार्टी को पुनर्जीवित और सक्रिय बनाने के उपाय सुझाने के लिए कांग्रेस ने शनिवार को एक समिति के गठन का फैसला किया। यह समिति 15 दिन के भीतर अपनी रपट देगी और इसका गठन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी जल्द से जल्द करेंगी।


कांग्रेस कार्यसमिति की लगभग साढ़े तीन घंटे चली बैठक के बाद पार्टी के महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने बताया कि समिति का आकार छोटा होगा, लेकिन अभी यह तय नहीं किया गया है कि समिति का अध्यक्ष कौन होगा।

उन्होंने बताया कि समिति 15 दिन के भीतर अपनी रपट पेश करेगी और इसके आधार पर तय किया जाएगा कि पार्टी को आगे की रणनीति कैसे बनानी है और कार्य कैसे करना है।

द्विवेदी ने बताया कि कार्यसमिति की बैठक में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने देश के मौजूदा राजनीतिक हालात पर सदस्यों से राय माँगी ताकि आगे की रणनीति तैयार की जा सके।


उन्होंने कहा कि हाल ही के कर्नाटक चुनाव सहित विभिन्न राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों तथा कई ताजा राजनीतिक मुद्दों पर कार्यसमिति ने चर्चा की। पार्टी को पुनर्जीवित करने के लिए बनने वाली समिति के बारे में द्विवेदी ने कहा कि यह एक छोटा समूह होगा और अभी यह तय नहीं किया गया है कि इसका नाम क्या होगा।
बैठक में कार्यसमिति के सदस्यों और स्थायी आमंत्रित सदस्यों की संख्या 35 थी। रक्षामंत्री एके एंटनी बैठक में शामिल नहीं हो सके। यह पूछने पर कि क्या बैठक में वित्तमंत्री पी. चिदंबरम शामिल हुए द्विवेदी ने कहा अगर आमंत्रित करते तो वे आते।



और भी पढ़ें :