शादी को बनाएँ अफेयर प्रूफ

NDND
कहते हैं इश्क कब, कहाँ और किससे हो जाए यह कोई नहीं जानता। शादीशुदा स्त्री और पुरुष जब इश्क के चक्कर में पड़ते हैं तो कई जिंदगियाँ दाँव पर लग जाती हैं और हाथ आती है बदनामी...बदनामी... और सिर्फ बदनामी। मर्दोका कहना है कि शादी के बाद हम जानबूझकर मोहब्बत के जंजाल में नहीं फँसते, पता ही नहीं चलता कब दिल अपनी हदें पार कर पत्नी के पल्लू से निकल प्रेमिका की जुल्फों में अटक जाता है? पर क्या यह तर्क सही है? जी नहीं, बिल्कुल नहीं।

हम इसे आपकी बदनीयति ही कहेंगे क्योंकि यदि आप चाहें तो थोड़ी-सी समझदारी, मेहनत और सच्ची नीयत से आप भी बना सकते हैं अपनी शादी को अफेयर प्रूफ।

क्या है बेवफाई?
पत्नी के अतिरिक्त किसी और महिला से शारीरिक संबंध बनाना ही बेवफाई नहीं है। आजकल मि. हसबैंड घंटों ऑनलाइन रोमांस कर रहे हैं। स्टडी बताती है कि ऑनलाइन डेटिंग साइट पर ज्यादातर शादीशुदा मर्द ही ‍सर्फिंग करते हैं। ऑनलाइन ही सही अफेयर तो अफेयर है। नैन चाहे जीती जागती गुड़िया से लड़ें या ऑनलाइन वेब से आप लक्ष्मण रेखा पार कर रहे हैं।

विवाह को दें प्राथमिकता
विवाह सफल अपने आप नहीं होते, इसके लिए लगातार जतन करने पड़ते हैं। बस चाहिए थोड़ी सी इच्छाशक्ति। यदि शांत, सफल वैवाहिक जीवन की कामना करते हैं तो पत्नी को जीवन का एकमात्र ध्येय बनाएँ।

रोमांटिक डेट पर जाएँ - डेट पर सिर्फ प्रेमिका के साथ ही जाया जाए यह किसी प्रेम शास्त्र में नहीं लिखा है। पत्नी को कम से कम सप्ताह में एक बार डेट पर जरूर ले जाएँ।

अश्लील साहित्य का त्याग करें - अश्लील साहित्य पढ़ना या ब्लू फिल्में देखना ठीक वैसा ही है, जैसे पत्नी की मौजूदगी में प्रेमिका से इश्क लड़ाना। पोर्न साहित्य देखने-पढ़ने से आपकी उम्मीदें पत्नी से बहुत बढ़ जाती हैं। आपकी कल्पना में परफैक्ट फिगर वाली सेक्सी मॉडल आने लगती हैं जिनकी तुलना जाने-अनजाने आप अपनी पत्नी की 'कम परफैक्ट फिगर' से करने लगते हैं और धीरे-धीरे पत्नी से मन उचटने लगता है।

रोमांटिक बनें - रोमांटिक हसबैंड बनने के लिए ज्यादा मेहनत नहीं लगती। दिन में एक बार उन्हें एक प्यार भरा एसएमएस या ईमेल करें। हफ्ते, दस दिन में 'आई लव यू' का छोटा सा खत या कार्ड दें। रोमांस करने के लिए कभी-कभार फूलों का सहारा लें या उनकी पसंद का कोई गिफ्‍ट दें।

WD|
सुनीतशर्मा
स्नेह प्रदर्शन में पहल करें : आमतौर पर हसबैंड इस मिथ्‍या में जीते हैं कि प्रेम प्रदर्शन से पत्नी सिर चढ़ जाएगी। जी नहीं, ऐसा बिल्कुल नहीं है। स्नेह का प्रदर्शन पति-पत्नी के जुड़ाव को मजबूत बनाता है। इसलिए 'माचो' स्टाइल त्याग कर यदा-कदा ही सही चुंबन, आलिंगन के माध्यम से प्यार दर्शाते रहें। ये छोटे-छोटे प्रयत्न आपके शादीशुदा जीवन की मजबूत नींव होंगे।

 

और भी पढ़ें :