टीसीएस का डीएनएस हाईजैक

WD|
ND
ND
नई दि‍ल्‍ली, भारत की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी ने अपनी वेबसाइट डॉट कॉम को रीस्‍टोर करने का फैसला कि‍या है। कंपनी को ये फैसला द्वारा उसकी साइट के डोमेन को बदले जाने के कारण लेना पड़ा है।


सूत्रों के अनुसार हैकर्स ने कंपनी की साइट पर 'फोर सेल' (बेचने के लि‍ए) वि‍षय से एक संदेश भी पोस्‍ट कर दि‍या था जो फ्रेंच और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में लि‍खा गया था। इस हैकिंग को माना जा रहा है, जो बि‍ल्‍कुल 2009 में ट्वि‍टर पर हुए सायबर हमले की तरह है।
रि‍पोर्टो के मुताबि‍क हैकर्स ने अपना ईमेल आईडी भी साइट पर बताया है।


क्‍या होता है डीएनएस हाईजैक?


डीएनएस हाईजैक को डीएनएस रीडायरेक्‍शन भी कहा जाता है। यह डोमेन नाम प्रणाली (डीएनएस) के रि‍जॉल्‍यूशन नामों को आईपी एड्रैस से धोखाधड़ी करने वाले डीएनएस सर्वर पर रीडायरेक्‍ट करने की तकनीक है। इस तकनीक का उपयोग वि‍शेष रूप से फि‍शिंग के लि‍ए कि‍या जाता है। डीएनएस सर्वर का उपयोग कि‍सी डोमेन नाम को आईपी एड्रैस में बदलने के लि‍ए कि‍या जाता है।



और भी पढ़ें :