स्पर्श से प्रभावित होते हैं फैसले

वॉशिंगटन| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 26 जून 2010 (00:39 IST)
हमें फॉलो करें
छूने का अपना महत्व है और यह हमारे महसूस करने के तरीके को प्रभावित करती है।

मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी), हार्वर्ड और येल विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिकों ने एक को अंजाम दिया और पाया कि शारीरिक हमारे दुनिया और खासतौर पर अन्य लोगों को देखने के नजरिए को सीधे तौर पर प्रभावित करता है।

शोधकर्ताओं ने बताया कि उदाहरण के लिए एक सख्त कुर्सी पर बैठने, भारी बस्ता ढोने या फिर पेड़ के खुरदरे तने पर टेकने से हमारे अवचेतन मन में दूसरे लोगों के बारे में सोचने और फैसला करने के तरीके प्रभावित होते हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :