मिशेल पर बरसे ओबामा के सचिव!

न्यूयॉर्क| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 7 जनवरी 2012 (17:08 IST)
FILE
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल और ओबामा के निकट सहयोगी के बीच सबकुछ सामान्य नहीं था। एक बार तो गिब्स ने अमेरिकी प्रथम महिला को बुरा-भला भी कह दिया था।


पत्रकार जोडी कैंटोर की पुस्तक ‘द ओबामाज’ में गिब्स और मिशेल के बीच तल्ख रिश्तों का दावा किया गया है। पुस्तक में कहा गया है कि व्हाइट हाउस में कदम रखने के बाद मिशेल का ओबामा के कई सहयोगियों के साथ मनमुटाव था और इनमें पूर्व चीफ ऑफ स्टॉफ रैम एमैनुयल भी शामिल थे।

जोडी अमेरिका के प्रतिष्ठित समाचार पत्र ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की संवाददाता हैं। उन्होंने इस पुस्तक को लिखने के लिए ओबामा के 30 मौजूदा और पूर्व सहयोगियों का साक्षात्कार किया।

बकौल पुस्तक ओबामा के कुछ खास सहयोगियों ने माना कि मिशेल अपने पति की प्रशासनिक व्यवस्था में एक बड़ी ताकत के तौर पर हैं। कुछ वक्त पहले तक मिशेल व्हाइट हाउस के कुछ अधिकारियों को ‘संकीर्ण मानसिकता’ का और ‘रणनीति’ से बेखबर मानती थीं।


जोडी ने एक लेख में कहा कि जनवरी, 2010 में डेमोक्रेट एडवर्ड कैनेडी के सीनेट सीट हारने के बाद मिशेल काफी नाराज हुई थीं। निजी तौर पर वह सिर्फ ओबामा के अधिकारियों पर नहीं, बल्कि अपने पति पर गुस्सा कर रही थीं।
वर्ष 2010 में आई एक फ्रांसीसी पुस्तक के मुताबिक मिशेल ने फ्रांस की प्रथम महिला कार्ला ब्रूनी से कहा था कि व्हाइट में रहना ‘नरक’ जैसा है।

जोडी की पुस्तक के मुताबिक मिशेल के इस कथित वक्तव्य से जुड़ी खबर देखने के बाद ओबामा के तत्कालीन मीडिया सचिव गिब्स सीधे मिशेल के पास गए। उन्होंने मिशेल से पूछा कि क्या फ्रांसीसी पुस्तक में कही गई बात सही है।
इसके एक दिन बाद व्हाइट हाउस की बैठक में कहा गया कि फ्रांसीसी पुस्तक पर व्हाइट हाउस की प्रतिक्रिया से प्रथम महिला चिंतित हैं। इसके बाद सभी लोग गिब्स की ओर देखने लगे। पुस्तक के अनुसार ओबामा के कई सहयोगियों ने कहा कि इस घटना के संदर्भ में गिब्स ने प्रथम महिला को बुरा-भला कहा था। (भाषा)



और भी पढ़ें :