महत्वपूर्ण रिश्ते मोदी मुद्दे के बंधक नहीं-अमेरिका

न्यूयॉर्क| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 30 जनवरी 2014 (17:52 IST)
FILE
न्यूयॉर्क। एक पूर्व ने अमेरिका के के साथ संबंधों को बेहद महत्वपूर्ण करार देते हुए कहा है कि इन संबंधों को नरेन्द्र मोदी के भारत का अगला प्रधानमंत्री बनने संबंधी मुद्दे का बंधक नहीं बनाया जा सकता है और अमेरिकी कारोबारियों ने स्वीकार कर लिया है कि उन्हें मोदी के साथ कारोबार करना होगा।

अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मामलों के उपमंत्री रह चुके फ्रैंक वाइजनर ने एशिया सोसायटी पॉलिसी इंस्टीट्यूट में भारत-अमेरिका संबंधों पर कहा कि नरेन्द्र मोदी एक सक्षम व्यक्ति हैं। हमें यह देखना होगा कि यदि वे शीर्ष पर पहुंचते हैं तो कैसे व्यवहार करते हैं।

वाइजनर ने कहा कि मैं समझता हूं कि अमेरिकी कारोबारियों और महत्वपूर्ण भारतीय तबके ने स्वीकार कर लिया है कि उन्हें उनके साथ काम करना होगा। भारत के साथ रिश्ते इतने अधिक महत्वपूर्ण हैं कि उन्हें किसी एक व्यक्ति से जुड़े मुद्दे का बंधक नहीं बनाया जा सकता। वर्ष 2005 में विदेश विभाग ने 2002 के गुजरात दंगों के चलते मोदी को अमेरिका यात्रा के लिए दिया गया वीजा रद्द कर दिया था।
अमेरिका बार-बार इस मुद्दे पर कहता रहा है कि मोदी के संबंध में उसकी लंबे समय से चली आ रही वीजा नीति में कोई बदलाव नहीं होगा लेकिन वे वीजा के लिए आवेदन करने को स्वतंत्र हैं और उन्हें किसी भी अन्य आवेदक की तरह समीक्षा का इंतजार करना होगा।

भारत में आगामी आम चुनाव के बारे में पूछे जाने पर वाइजनर ने कहा कि चुनावी नतीजों की भविष्यवाणी करना अभी जल्दबाजी होगा। यह पूरी तरह स्पष्ट है कि भारतीय राजनीतिक परिदृश्य में बड़े बदलाव होंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :