1. खबर-संसार
  2. »
  3. समाचार
  4. »
  5. कैंपस बज़
  6. नेतागिरी सिखाने के लिए नया पाठ्यक्रम
Written By वार्ता

नेतागिरी सिखाने के लिए नया पाठ्यक्रम

PTI
राजनीति के शौकीन छात्रों के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक पाठ्यक्रम शुरू हो रहा है जिसमें नेता बनने का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

आमतौर पर घरों में माता-पिता बच्चों को राजनीति से दूर रहने की सलाह देते हैं लेकिन इस कोर्स के शुरू होने से ऐसे युवाओं को फायदा होगा जो कॉलेज और छोटे स्तर पर राजनीति तो करते हैं लेकिन आगे कैसे बढ़े यह नहीं जानते।

उत्तर प्रदेश की राजनीति में युवाओं के बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने के बाद अधिकांश युवा खुद में राहुल गांधी, अखिलेश यादव, जयंत चौधरी की छवि तलाशने लगे हैं। ऐसे युवा जो राजनीति में आना तो चाहते हैं पर राजनीति के तौर-तरीके नहीं जानते। उनके लिए लखनऊ की एक स्वयंसेवी संस्था छह महीने का कोर्स आरंभ कर रही है जिसमें नेता बनाने की कक्षाएं चलेंगी और ये कक्षाएं स्थापित नेता लिया करेंगे।

इसके संचालक विभूति आर आचार्य कहते हैं कि नेतृत्व क्षमता के विकास के नाम पर बाजार में कई कोर्स चल रहे हैं लेकिन यह अपनी तरह का इकलौता पाठ्यक्रम है। युवाओं को राजनीति का वास्तविक अनुभव हो इसके लिए काफी मशक्कत करके इसका पाठ्यक्रम तैयार किया गया है।

इसके पाठ्यक्रम में प्रचार, भाषण, गुटबाजी, मीडिया से बातचीत जैसे विषयों को रखा गया है। पहली बार ये व्यवस्था होगी कि छात्र अपने पसंदीदा नेता के साथ प्रशिक्षण ले सके। इस कोर्स में दाखिले की प्रक्रिया मई माह के प्रथम सप्ताह से आरंभ होगी। न्यूनतम योग्यता स्नातक निर्धारित की गई है।

पाठ्यक्रम शुरू करने वालों का मानना है कि इसमें धैर्य, कठिन परिश्रम, हर मौसम में घंटों काम करने का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

आचार्य का कहना है कि हम कोर्स में उन लोगों को प्राथमिकता देंगे जो किसी छात्र संगठन से जुड़कर या खुद को राजनीति में स्वयं को बेहतर तरीके से पेश करना चाहते हैं।

लेकिन यह पाठ्यक्रम ऐसा है जिसमें अन्य व्यावसायिक कोर्स की तरह प्लेसमेंट नहीं होगा। इसका अर्थ यह है कि कोर्स के बाद विधायक और सांसद तैयार नहीं किए जाएंगे सिर्फ उन्हें राजनीति में आने पर काम करने की दक्षता प्रदान की जाएगी।

गौरतलब है कि भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) बेंगलूर ने भी महिलाओं को राजनीति सिखाने का बीड़ा उठाया है। इसमें प्रवेश लेने वाली महिलाओं को संस्थान राजनीतिक नेतृत्व से संबंधित सर्टिफिकेट देगा।

तीन महीने के इस इंडिया वूमैन इन लीडरशिप प्रोग्राम कोर्स के माध्यम से राजनीति में हाथ आजमाने की इच्छुक महिलाओं को न सिर्फ शासन-प्रशासन की जानकारी दी जाएगी बल्कि उन्हें राजनीति के क्षितिज पर छा जाने के लिए सभी जरूरी दांव-पेंच भी सिखाए जाएंगे। (वार्ता)